DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एटमी करार आठ सिंतबर को होगा कांग्रेस में पेश!

अमेरिका में बुश प्रशासन को उम्मीद है भारत के साथ परमाणु करार को परमाणु आपूर्तिकर्ता देशों (एनएसजी) की आेर से हरी झंडी मिलने के बाद कांग्रेस से अनुमोदन के लिए आठ सितंबर तक पेश किया जा सकता है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय के कार्यकारी उप प्रवक्ता गोंजालो आर गेलेगोस ने सोमवार को इस बात के संकेत दिए कि परमाणु करार को अमेरिकी संसद में मंजूरी के लिए आठ सिंतबर तक पेश किया जा सकता है। करार पर भविष्य की रणनीति के बारे में पूछे जाने पर गेलगोस ने बताया कि हम लोग एनएसजी से भी परमाणु करार को पारित किए जाने के बारे में सदस्य देशों से बातचीत की योजना बना रहे हैं। हमें अगले महीने इस दिशा में सकारात्मक परिणाम मिलने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि एनएसजी से मंजूरी मिलने के बाद हमें उम्मीद है कि करार को कांग्रेस में सत्र के दौरान आठ सितंबर के आसपास कभी भी पेश कर सकते हैं। गेलगोस ने कहा कि अमेरिका का इस करार को पूरा समर्थन है और बुश प्रशासन का विश्वास है कि इससे न सिर्फ भारत के साथ द्विपक्षीय रिश्ते मजबूत होंगे, बल्कि शेष विश्व की परमाणु सुरक्षा भी सुनिश्चित की जा सकेगी। चुनाव के लिए संसद के सत्रावसान से पहले करार को अंजाम तक पंहुचाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि हम इस करार से जुड़े सभी पक्षों को इसके महत्व को समझाने के लिए अपने संपर्को का भरपूर इस्तेमाल कर रहे हैं। हमें इस दिशा में सकारात्मक परिणाम मिलने की पूरी उम्मीद है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: करार आठ सिंतबर को होगा कांग्रेस में पेश!