class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिम्स के डॉक्टरों-कर्मियों को तोहफा,

रिम्स के डॉक्टरों और कर्मचारियों को एम्स के अनुरूप वेतन-भत्ता दिया जायेगा। इस आशय का प्रस्ताव वित्त विभाग को भेजा जा रहा है। यह निर्णय मंगलवार को शासी परिषद की बैठक में लिया गया। स्वास्थ्य मंत्री सह परिषद के अध्यक्ष भानू प्रताप शाही ने बैठक की अध्यक्षता की।ड्ढr स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि अस्पताल में 64 डॉक्टरों की नियुक्ित को मंजूरी दे दी गयी है। इनको सीएम मधु कोड़ा 15 अगस्त को नियुक्ित पत्र सौंपेंगे। रिम्स में डॉक्टरों की प्रोन्नति को भी मंजूरी मिल गयी है। वर्ष 10 में 23 लाख के घोटाले के आरोपी उपेंद्र लाल को एनओसी देने के मामले की जांच स्वास्थ्य सचिव करंगे। अस्पताल में गैस पाइप लाइन और कैथ लैब लगानेवाली कंपनियों को 10 सितंबर तक काम पूरा कर हैंडओवर करने का निर्देश दिया गया है। आठ सुपर स्पेशलिटी विभागों में नियुक्त होनेवाले डॉक्टरों को टीचर्स माना जायेगा। यहां टीचींग भी होगी।ड्ढr डीन को बिना मान्यता के चल रहे पीजी कोर्सो की मान्यता बहाल करने की जिम्मेवारी दी गयी है। रिम्स में बननेवाले छह सुपर स्पेशलिटी विभागों को एम्स के विभागों के अनुरूप दर्जा दिलाने का प्रयास होगा। सुपर स्पेशलिटी विभागों के भवन का शिलान्यास अक्तूबर-नवंबर में राष्ट्रपति के हाथों कराने का प्रयास होगा। रिम्स अब 15 लाख रुपये से हैलीपैड बनयेगा। रिम्स के सभी विभागों में आधुनिक उपकरण खरीदे जायेंगे। तकनीशियनों की सेवा नियमित करने, रिक्त शैक्षणिक पदों को भरने के लिए विज्ञापन निकालने का भी निर्णय लिया गया। बैठक में रिम्स निदेशक, निधि खर, स्वास्थ्य सचिव डॉ प्रदीप कुमार, जेठा नाग, सांसद प्रतिनिधि कलीमुद्दीन, आमंत्रित सदस्य अधीक्षक डॉ आइबी प्रसाद और डॉ आरएन सिंह आदि उपस्थित थे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रिम्स के डॉक्टरों-कर्मियों को तोहफा,