DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्य चुनाव आयुक्त गोपालस्वामी कल होंगे रिटायर

लगभग तीन साल के अपने कार्यकाल के आखिरी पड़ाव पर विवादों में रहे मुख्य चुनाव आयुक्त एन गोपालस्वामी सोमवार को रिटायर हो जाएंगे। वह चुनाव प्रक्रिया के बीच में ही रिटायर होने वाले पहले मुख्य चुनाव आयुक्त होंगे। 1बैच के गुजरात कैडर के आई ए एस अधिकारी गोपालस्वामी 2004 में चुनाव आयुक्त बने थे। उन्हें 30 जून 2006 को मुख्य चुनाव आयुक्त के पद पर नियुक्त किया गया था। चुनाव आयोग ने सोमवार को गोपालस्वामी के लिए विदाई समारोह का आयोजन किया है। इस समारोह में उनके उत्तराधिकारी नवीन चावला और अन्य चुनाव आयुक्त वाई एस कुरैशी के भी शामिल रहने की संभावना है। इससे पहले चावला ने शनिवार को गोपालस्वामी के सम्मान में रात्रिभोज दिया। गोपालस्वामी मौजूदा साल की शुरुआत में चुनाव आयुक्त चावला को पद से हटाने की राष्ट्रपति से सिफारिश करने के कारण विवादों में घिर गए थे। उन्होंने चावला पर अपने फैसलों में पक्षपात करने का आरोप लगाया था। चावला ने पिछले साल कर्नाटक विधानसभा के चुनाव मई में कराने पर एतराज जताया था। वह 2007 में उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनाव गर्मियों में कराए जाने के भी खिलाफ थे। सरकार ने गोपालस्वामी की सिफारिश को नामंजूर कर दिया और अब चावला उनकी जगह मुख्य चुनाव आयुक्त बनेंगे। चावला से खाली चुनाव आयुक्त का पद केन्द्रीय बिजली सचिव वी एस संपत को सौंपा जाएगा। चुनाव आयोग में आने से पहले गोपालस्वामी 1से 2004 के बीच केन्द्र सरकार में विभिन्न पदों पर रहे। वह केन्द्रीय गृह सचिव,संस्कृति सचिव और राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के महासचिव भी रह चुके हैं। गोपालस्वामी योजना आयोग में शिक्षा सलाहकार और इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग में संयुक्त सचिव भी रहे। योतिष और प्रौद्योगिकी में गहरी दिलचस्पी रखने वाले गोपालस्वामी ने वेदों के संरक्षण के लिए यूनेस्को से पांच करोड़ रुपए का अनुदान हासिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मु. चुनाव आयुक्त गोपालस्वामी कल होंगे रिटायर