DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रत्यक्ष कर संग्रह में अप्रत्याशित वृद्धि

देश में भले ही महंगाई की मार आम आदमी पर भारी पड़ रही हो और औद्योगिक जगत पर मंदी के बादल मंडरा रहे हों लेकिन वित्त मंत्री पी.चिदंबरम के लिए फिलहाल खुशी का सबब यह है कि प्रत्यक्ष कर संग्रह में अप्रम्याशित रूप से 47 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। इसमें आयकर और कॉरपोरट कर दोनों ही शामिल है। इससे वित्त मंत्री को तेल और उवर्रक सब्सिडी बढ़ने के चलते दबाव में आये राजकोषीय घाटे से निपटने में मदद मिलेगी। राजस्व विभाग के मुताबिक चालू वित्त वर्ष के पहले चार महीनों के दौरान प्रत्यक्ष कर संग्रह 47 फीसदी बढ़कर 71,648 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। जहां एक ओर कॉरपोरट कर 50.08 फीसदी बढ़कर 27,718 करोड़ रुपये के मुकाबले 41,5रोड़ रुपये पर पहुंच गया है, वहीं आयकर 42.82 फीसदी बढ़कर 20,रोड़ रुपये के मुकाबले 2रोड़ रुपये पर पहुंच गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रत्यक्ष कर संग्रह में अप्रत्याशित वृद्धि