DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

7.5 से 8 फीसदी पर बनी रहेगी जीडीपी : रंगराजन

वित्तीय वर्ष 08-0े दौरान देश की सकल घरलू उत्पाद (ाीडीपी) दर 7.5-8 प्रतिशत रहने का अनुमान है। पूर्व में रिार्व बैंक ने इसके 8-8.5 प्रतिशत रहने का लक्ष्य रखा था। मार्च के अंत तक महंगाई से भी राहत मिल सकती है। प्रधानमंत्री आर्थिक सलाहकार परिषद के चेयरमैन सी. रंगराजन ने यह जानकारी दी। डॉ. रंगराजन ने कहा कि जब तक महंगाई की दर में खास कमी नहीं हो जाती रिजर्व बैंक कड़ी मौद्रिक नीति का रुख अपनाए रहेगा। उन्होंने कहा कि अगले वित्त वर्ष में देश फिर से एक बार तीव्र विकास दर पकड़ सकता है और जीडीपी की वृद्धि दर प्रतिशत से ऊपर निकल सकती है। उन्होंने कहा कि वैश्विक बाजार में कच्चे तेल की कीमतों के नरम पड़ने से घरेलू बाजार में दामों पर असर पड़ेगा। रंगराजन के मुताबिक उनका मानना है कि मार्च-0तक महंगाई की दर घटकर 8-प्रतिशत के बीच आ सकती है। देश में महंगाई की दर फिलहाल 13 साल के रिकॉर्ड स्तर को छूते हुए 11-12 फीसदी के करीब बनी हुई है। डॉ. रंगराजन ने कहा कि 2008-0े दौरान सरकार का वित्तीय घाटा जीडीपी के ढाई प्रतिशत तक रखने के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है अलबत्ता ऑफ बजट घाटा अनुमान से अधिक रह सकता है। पिछले माह चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के लिए क्रेडिट पॉलिसी जारी करते समय रिजर्व बैंक ने जीडीपी अनुमान को पहले के 8-8.5 प्रतिशत से घटाकर 8 प्रतिशत कर दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 7.5 से 8 फीसदी पर बनी रहेगी जीडीपी : रंगराजन