अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहले सिस्टम ठीक करे सरकार

झारखंड हाइकोर्ट ने सरकार के कामकाज पर नाराजगी जताते हुए कहा है कि छोटे काम के लिए भी सरकार कोर्ट का आदेश चाहती है। सरकार पहले अपना सिस्टम ठीक करे, तब काम करं, ताकि छोटे कामों में न तो कोर्ट में मामला आये और न ही कोर्ट को डायरक्शन देने की नौबत आये।ड्ढr सिटी बस सर्विस मामले की सुनवाई के दौरान उक्त टिप्पणी झारखंड हाइकोर्ट ने की। हाइकोर्ट ने 15 दिन में शहर में बस स्टॉपेज का निर्माण शुरू करने का आदेश भी दिया। मामले की अगली सुनवाई 26 अगस्त को होगी।ड्ढr कोर्ट ने सरकार से पूछा है कि बस सर्विस में अगर प्राइवेट पार्टी नहीं आ रही है, तो पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम के लिए क्या कदम उठाये जाने चाहिए। कोर्ट ने प्रकाशित विज्ञापन पर भी आपत्ति जताते हुए कहा कि मंत्री या किसी विभाग का विज्ञापन बड़ा-बड़ा छपता है। नागरिक सुविधाओं के विज्ञापन पर सरकार को प्रमुखता से ध्यान देना चाहिए।ड्ढr सरकार की ओर से कहा गया कि चार रूट पर 25 बसें चल रही हैं। शहर में 14 रूट बनाये गये हैं। दस रूट के लिए आवेदन आमंत्रित कर कार्रवाई चल रही है।ड्ढr नगर निगम की ओर से बताया गया कि बस स्टॉपेज के निर्माण के लिए टेंडर आमंत्रित किया गया है। इसमें तीन कंपनियों ने टेंडर भरा है। जल्द ही काम शुरू हो जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पहले सिस्टम ठीक करे सरकार