अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बूटी बस्ती में डायरिया से दो की मौत, कई बीमार

बूटी बस्ती की 70 वर्षीय बुधनी देवी और आठ वर्षीया आरती कुमारी डायरिया की भेंट चढ़ गयी। बस्ती के दो दर्जन से ज्यादा लोग बीमार हैं। इनमें से कई की हालत गंभीर है, जिन्हें इलाज के लिए रांची नर्सिग होम सहित आसपास के अस्पतालों में भरती कराया गया है। डायरिया फैलने की सूचना मिलने पर देर रात डॉक्टरों की टीम ने बस्ती में कैंप किया और मरीाों का इलाज किया। आधा दर्जन मरीाों को देर रात अस्पताल में भरती कराया है। पिछले पांच दिनों से यहां डायरिया का प्रकोप है। बस्ती में एक कुंए का पानी पी रहे अधिकांश लोग इसकी चपेट में हैं। इसके अलावा यहां गलियों में भारी गंदगी है। उल्टी-दस्त के कारण कई की स्थिति गंभीर हो गयी। गंभीर रूप से बीमार बुधनी देवी की मौत गुरुवार की दोपहर हो गयी। आठ वर्षीय आरती की मौैत बुधवार को हुई थी। डायरिया फैलने की सूचना पाकर डिप्टी मेयर अजय नाथ शाहदेव और स्थानीय पार्षद विजेंद्र मुंडा आदि यहां पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। शाहदेव ने डायरिया फैलने की सूचना डीसी और सिविल सर्जन को भी दी। इसके बाद यहां रात आठ बजे डॉक्टरों और पाराकर्मियों की टीम भेजी गयी। टीम ने देर रात रुक कर मरीाों का इलाज किया। गंभीर रूप से बीमार मरीाों को एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचाया गया। रांची की सिविल सर्जन डॉ गीता कंठ ने बताया कि डॉ रामदेव किस्कू, डॉ शशि टोप्पो, कर्मचारी विजय कुमार आदि मेडिकल टीम में शामिल हैं। बस्ती के मरीाों को ओआरएस का पैकेट दिया गया है। साथ ही पानी उबाल कर पीने की सलाह दी गयी है। डिप्टी मेयर पहुंचे, मृतक के परिानों को मदद दी बूटी बस्ती में डायरिया फैलने की सूचना पाते ही डिप्टी मेयर अजयनाथ शाहदेव यहां पहुंचे और डायरियों पीड़ितों व उनके परिानों से मिल कर हालचाल पूछा। डायरिया से मरी वृद्धा बुधनी देवी और आारती के परिानों से मिल कर उन्हें ढाढस बंधाया। उन्होंने बुधनी के परिानों को अपनी ओर से आर्थिक मदद भी की। बस्ती से ही शाहदेव ने प्रशासनिक और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को बस्ती में डायरिया फैलने की जानकारी दी और शीघ्र इलाज के लिए चिकित्सा शिविर लगाने का आग्रह किया। उन्होंने आश्वस्त किया कि वे शीघ्र चिकित्सा शिविर लगा कर मरीाों का इलाज करायेंगे और गांव के कुओं और नालियों में ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव करायेंगे। आज भी कैंप होगा सिविल सर्जन डॉ गीता कंठ ने बताया कि डायरिया से निपटने के लिए शुक्रवार को भी बस्ती में कैंप किया जायेगा। रैपिड रिस्पांस टीम वहां जायेगी और पीड़ितों का इलाज करगी। डायरिया से पीड़ित मरीाों की सूची डायरिया से पीड़ित मरीाों में प्रयाग महतो (80 वर्ष), डबलू कुमार (12 साल), सरिता देवी (35 साल), रीता देवी (35 साल), लक्ष्मी कुमारी (10 साल), लगन देवी (60 साल), इंदु देवी (40 साल), प्रतिमा कुमारी (25), सीमा देवी (35),, आरती कुमारी (15), सुभाष ठाकुर (20), लक्ष्मी (21), अमर प्रताप ठाकुर (35), राक महतो (32), विश्ेश्वर महतो (26), यशोदा (25 वर्ष) आदि शामिल हैं। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बूटी बस्ती में डायरिया से दो की मौत, कई बीमार