DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीओ ने किया आश्वस्त: आवेदन जमा करं जांच की जाएगी

नगर की हृदय स्थली सदर बाजार के दर्जनों मकान गैरमजरूआ घोषित कर उसकी रसीद नहीं काटे जाने पर लोगों ने कड़े शब्दों में आपत्ति जतायी है। लोगों का कहना है कि सैकड़ों वर्षो से वे यहां रहे रहे हैं, उनकी रसीद भी पूर्व से कटती आ रही है, लेकिन इधर कुछ माह से कर्मचारियों के रवैये को लेकर लोगों में आक्रोश व्याप्त है। इस मामले में अंचलाधिकारी अंजू कुमारी ने बताया कि कर्मचारी द्वारा जिस जमीन का रसीद काटने से इंकार किया गया, उसके मालिक अंचल में आवेदन जमा करं। वे इसकी जांच करंगी। इधर लोगों ने इस मामले को जनता दरबार में ले जाने की बात कहीं है।ड्ढr ड्ढr सदर बाजार के लोगों से मिली जानकारी के अनुसार नगर का सबसे भीड़ वाला व्यापारी इलाका में सदर बाजार शामिल है। यहां की सभी मकानें सैकड़ों वर्ष पुरानी है। लोगों का कहना है यहां उनकी खानदानी जमीन है। इस जमीन का वर्षो से ब्लॉक द्वारा रसीद भी काटा जाता रहा है। थाना न. 35 का यह क्षेत्र कर्मचारी राजकिशोर गुप्ता के हलके में पड़ता है। अपनी जमीन के रसीद का जब वे अप टू डेट कराने कर्मचारी के पास पहुंचे तो वहां उन्हें बताया गया कि सदर बाजार का अधिकांश जमीन मकान गैरमजरूआ है और जिलाधिकारी के निर्देशानुसार वे गैरमजरूआ जमीन का रसीद नहीं काटेंगे। इस मामले को लेकर लोगों में आक्रोश व्याप्त है। इधर सीओ अंजू कुमारी ने बताया कि जिलाधिकारी का कुछ निर्देश प्राप्त हुआ है, लेकिन सदर बाजार के विषय में उन्हें ठीक से याद नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सीओ ने किया आश्वस्त: आवेदन जमा करं जांच की जाएगी