अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओस्सेतिया पर जार्जिया की बमबारी से 15 मरे

ाॉर्जिया से अलग हुए दक्षिणी ओस्सेतिया क्षेत्र के एक गांव में शुक्रवार को जार्जियाई सेना द्वारा दाखिल होकर टैंकों से बमबारी किए जाने से कम से कम 15 नागरिक मारे गए। यह हमला जार्जिया के राष्ट्रपति मिखाइल साकाशिविली द्वारा गुरुवार देर रात संघर्षविराम घोषित किए जाने के चंद घंटों बाद हुआ। दक्षिण ओस्सेतियाई सरकार के मुताबिक जार्जियाई टैंकों और सेना की पैदल इकाई ने तस्खिनइन पर हमला किया। इस हमले में शहर का काफी बड़ा हिस्सा तबाह हो गया है। सरकार के मुताबिक इस हमले में 15 नागरिक मारे गए हैं, कई इमारतें ढह गई हैं और कई इमारतों मंे आग लग गई है। दक्षिणी काकेशस में स्थित ओस्सेतिया पूर्व सोवियत युग में जॉर्जिया का हिस्सा था। सोवियत संघ के विघटन के बाद ओस्सेतिया और अब्खाजिया ने खुद को स्वतंत्र घोषित कर दिया था, लेकिन उनकी सरकारों को संयुक्त राष्ट्र के किसी भी सदस्य देश ने मान्यता नहीं दी है। ओस्सेतिया सरकार के मुताबिक, इस हमले में पहली बार जार्जिया सरकार ने एसयू-25 लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल किया। इस बीच न्यूयॉर्क से प्राप्त समाचारों के अनुसार दक्षिणी ओस्सेतिया के करीबी समझे जाने वाले रूस ने वहां भड़की ताजा हिंसा रुकवाने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से हस्तक्षेप करने का आव्हान किया, लेकिन वहां इस बारे में कोई सहमति नहीं बन सकी। संयुक्त राष्ट्र में रूस के राजदूत विताले चुर्किन ने जॉर्जिया पर दक्षिण ओस्सेतिया के साथ आक्रामक रुख अपनाने का आरोप लगाया है। जॉर्जिया के एक अन्य अलगाववादी क्षेत्र अब्खाजिया ने दक्षिणी ओस्सेतिया को सैन्य सहायता देने की पेशकश की है, जबकि रूस ने दोनों पक्षों से विवेक से काम लेने को कहा है। रूस की समाचार एजेंसी इतर-तास के मुताबिक जॉर्जिया सरकार ने दक्षिणी ओस्सेतिया के लड़ाकों पर संघर्षविराम समझौता तोड़ने का आरोप लगाया है। सरकारी बयान में कहा गया है कि दक्षिण ओस्सेतिया के विद्रोहियों ने गुरुवार देर रात गोलाबारी शुरू कर दी, जिसमें नागरिक हताहत हुए। बयान में अलगाववादियों से गोलाबारी रोकने का अनुरोध करते हुए कहा गया है कि नागरिकों की हिफाजत के लिए उसे कदम उठाना पड़ा। राष्ट्रपति साकाशिविली ने टेलीविजन पर अपने संदेश में अलगाववादियों से कहा है, ‘‘कृपया तत्काल संघर्षविराम लागू कीजिए। हम जवाबी कार्रवाई नहीं करना चाहते। हम वर्षो से यह सब झेल रहे हैं। कृपया जार्जिया के संयम की परीक्षा नहीं लीजिए।’’ इस बीच संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने इस हिंसा पर चिंता व्यक्त करते हुए दोनों पक्षों से क्षेत्र में अस्थिरता पैदा करने वाले कदम उठाने से बचने को कहा है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ओस्सेतिया पर जार्जिया की बमबारी से 15 मरे