अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना आपसी समन्वय के कोई राज नहीं चला सकता: उपेंद्र

राकांपा के प्रदेश अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि बिना आपसी समन्वय के कोई भी दल राज नहीं चला सकता। देश की भलाई के लिए जाति-धर्म का भेद बाधक नहीं होना चाहिए। चाहे वह किसी जाति धर्म का व्यक्ित हो अगर सम्मान के लायक हो तो उसे सम्मान मिलना चाहिए। शुक्रवार को चाणक्य-चन्द्रगुप्त एकता मंच द्वारा आयोजित सम्मेलन में उन्होंने कहा कि इस राज्य की जनता सुशासन के अत्याचार से त्रस्त हैं। कार्यक्रम में 15 ब्राह्माणों द्वारा मंत्रोच्चारण, शंखनाद व उनके द्वारा अंग वस्त्र व पगड़ी देकर श्री कुशवाहा को सम्मानित किया गया।ड्ढr ड्ढr समरोह की अध्यक्षता मंच के अध्यक्ष तारकेश्वर तिवारी ने की । स्वागत भाषण संजय कुशवाहा व संचालन विजय कुशवाहा ने किया। कार्यक्रम में अनिल कुशवाहा, सीपी सिन्हा, विनोद कुमार ओझा, नीरा तीवारी, अरुण कुशवाहा, प्रमोद आचार्य, अमर नाथ तिवारी, अनिल दूबे, विजय पांडेय, रामकिशोर, मिश्रा, शीला मिश्रा, आभा, धिरनद्र तिवारी, सुजीत पांडेय, बबलू पंडित आदि मौजूद थे। धन्यवाद ज्ञापन अवनिन्द्र नारायण पांडेय ने किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बिना आपसी समन्वय के कोई राज नहीं चला सकता: उपेंद्र