DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कच्चे तेल में गिरावट का दौर जारी

च्चे तेल की कीमतों में गिरावट शुक्रवार को भी जारी रही, जबकि डॉलर यूरो के मुकाबले छह महीने के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गया। यूरोपीय केंद्रीय बैंक और बैंक ऑफ इंग्लैंड द्वारा अपनी ब्याज दरों मंे कोई परिवर्तन नहीं किए जाने के बाद यूरो के मुकाबले डॉलर में तेजी आई। केंद्रीय बैंक के इस कदम ने विश्व की अर्थव्यवस्था में मंदी आने के संदेह को और बढ़ावा दिया है तथा कच्चे तेल की मांग में और कमी आने की संभावना है। सितंबर में डिलीवरी वाले कच्चे तेल की कीमत 4.82 डॉलर की गिरावट के साथ 115.20 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई। कई व्यापारियों का मानना है कि कच्चे तेल की कीमत 117 डॉलर प्रति बैरल के आसपास रहेगी। इससे कम कीमतें केवल अल्पकालिक गिरावट है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कच्चे तेल में गिरावट का दौर जारी