अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लक्ष्य से भटक गए निशानेबाज

भारत के महारथी निशानेबाज 2वें ओलंपिक खेलों में शनिवार को यहां अपने लक्ष्य से भटक गए। अंजली भागवत और अवनीत कौर सिद्धू महिला 10 मीटर एयर राइफल और समरेश जंग पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल में खाली हाथ रहे। पुरुष ट्रैप स्पर्धा में मानवजीत संधू और मनशेर सिंह की हालत भी पतली ही रही। पहले दिन अंजलि, अवनीत और समरश की यह नाकामी भारत के नौ सदस्यीय निशानेबाजी दल के लिए एक करारा झटका है। अनुभवी अंजली और ओलंपिक में पहली बार उतरीं अवनीत से भारत को बहुत उम्मीदें थीं। लेकिन 47 निशानेबाजों के बीच अंजली 2वां और अवनीत 3वां स्थान ही हासिल कर सकीं। अपने तीसरे ओलंपिक में भाग ले रहीं 38 साल की अंजली ने अच्छी शुरुआत करते हुए पहले दो राउंड में और अंक बनाए। लेकिन इसके बाद वह लक्ष्य से भटक गयीं और अगले दो राउंड में पांच अंक गंवा दिए। पिछले कुछ अरसे से अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में अच्छा प्रदर्शन कर रहीं अवनीत भी ओलंपिक की चकाचौंध में घबरा गयीं। वह 00, और यानी कुल 38अंक ही स्कोर कर सकीं। अंजली और अवनीत को अब 14 अगस्त को 50 मीटर राइफल थ्री प्रोन में अपनी किस्मत को आजमाना है। पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल में समरेश को राष्ट्रमंडल खेलों और ओलंपिक के स्तर में फर्क का पता चल गया होगा। वर्ष 2006 के मेलबर्न राष्ट्रमंडल खेलों के हीरो समरेश 43 निशानेबाजों के बीच सिर्फ आखिर से पहले स्थान पर रहे। समरेश ने े राउंड के साथ कुल 600 में से 570 अंक बनाए। ब्राजील के स्तेनिया यामामोतो ने समरेश को कतार में सबसे पीछे नजर आने से बचा लिया। इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक चीन के पांग वेई ने 688.2 अंकों के साथ जीता। दक्षिण कोरिया के जिन जोंग ओह (684.5 अंक) को रजत और उत्तर कोरिया के किम जोंग सू (683 अंक) को कांस्य पदक मिला। पुरुष ट्रैप में तीसरे राउंड के बाद मानवजीत और मनशेर की हालत खस्ता थी। विश्व चैम्पियन मानवजीत 70 अंकों के साथ 12वें स्थान पर हैं। अपने चौथे ओलंपिक में खेल रहे मनशेर ने 6अंक बनाए और 21वें नंबर पर हैं। इन दोनों भारतीय निशानेबाजों को फाइनल में पहुंचने के लिए रविवार को बाकी बचे दो राउंड में अपने प्रदर्शन में काफी सुधार करना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लक्ष्य से भटक गए निशानेबाज