DA Image
30 मार्च, 2020|7:33|IST

अगली स्टोरी

BCCI की बैठक जारी, श्रीनिवासन नहीं छोड़ना चाहते अध्यक्ष पद

BCCI की बैठक जारी, श्रीनिवासन नहीं छोड़ना चाहते अध्यक्ष पद

आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले को लेकर चेन्नई में बीसीसीआई की बैठक जारी है। सूत्रों के अनुसार एन श्रीनिवासन अपना अधिकार छोड़ने को तो तैयार हो गए हैं, लेकिन उन्होंने अपने पद से इस्तीफा देने से साफ इंकार कर दिया है।

इससे पहले श्रीनिवासन समझा जाता था कि वह पद छोड़ने से पहले तीन मांगें रखेंगे। उनकी तीन मांगें यह होंगी कि जांच में पाक-साफ साबित होने पर उन्हें दोबारा अध्यक्ष बनाया जाए, आईसीसी की बैठकों में वह भारत का प्रतिनिधित्व करें और सचिव संजय जगदाले और कोषाध्यक्ष अजय शिर्के को नए पैनल में शामिल ना किया जाए, जिन्होंने उन्हें धोखा दिया है।

समझा जाता है कि बीसीसीआई सदस्य जगदाले और शिर्के की अनदेखी करने के पक्ष में नहीं है और उनकी इस मांग को माना नहीं जाएगा। बोर्ड के शीर्ष सदस्य श्रीनिवासन को पद छोड़ने के लिए मजबूर करने की रणनीति बना रहे हैं। जब तक उनके दामाद और चेन्नई सुपर किंग्स टीम प्रिंसिपल गुरुनाथ मयप्पन के खिलाफ जांच जारी है, तब तक उन्हें पद छोड़ने के लिए कहा जा रहा है।

श्रीनिवासन से साफ तौर पर कहा जाएगा कि भारतीय क्रिकेट के हित में यही है कि वह नैतिक आधार पर इस्तीफा दे दें। यदि वह नहीं मानते हैं तो बोर्ड के अधिकांश अधिकारी इस्तीफा देंगे और ऐसे में बोर्ड में संवैधानिक संकट पैदा हो जाएगा जिसमें उनके सामने पद छोड़ने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा।

कार्यसमिति में 24 सदस्य हैं लेकिन जगदाले और शिर्के के जाने के बाद अब 22 सदस्य रह गए हैं। मध्यप्रदेश क्रिकेट संघ और महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मौजूदा कार्यसमिति का हिस्सा नहीं हैं। नियम के अनुसार शिर्के और जगदाले के इस्तीफे पर भी चर्चा की जाएगी। समझा जाता है कि सदस्य इसे स्वीकार नहीं करेंगे।

कार्यसमिति के एक प्रभावी सदस्य ने कहा कि जगदाले और शिर्के ने कुछ गलत नहीं किया है और हमें उम्मीद है कि अधिकांश सदस्य उनके इस्तीफे का विरोध करेंगे। देखना यह है कि श्रीनिवासन इस स्थिति पर कैसे प्रतिक्रिया व्यक्त करेंगे। यदि स्पाट फिक्सिंग मामले में स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच के लिए श्रीनिवासन इस्तीफा देते हैं तो उनसे पूछा जा सकता है कि उन्होंने अपने गिरफ्तार दामाद मयप्पन की गतिविधियों पर नजर क्यों नहीं रखी।
 
बैठक में तीन सदस्यीय जांच समिति की स्थिति पर भी बात की जाएगी क्योंकि इसके सदस्यों में से एक जगदाले इस्तीफा दे चुके हैं। सदस्य ने कहा कि समिति में तमिलनाडु के दो रिटायर्ड न्यायाधीशों के साथ एक नये सदस्य को जोड़ा जाएगा या नई समिति बनाई जाएगी, इस पर बात होगी।

नियमों के अनुसार श्रीनिवासन चाहे तो जगदाले और शिर्के का इस्तीफा स्वीकार करके अंतरिम सचिव और कोषाध्यक्ष चुन सकते हैं। फिलहाल अंतरिम सचिव के तौर पर हरियाणा क्रिकेट संघ के प्रमुख और आईपीएल संचालन परिषद के सदस्य अनिरूद्ध चौधरी के नाम की अटकलें लगाई जा रही है।

शशांक मनोहर के साथ राजीव शुक्ला, अनुराग ठाकुर और अरुण जेटली जैसे प्रमुख सदस्य मौजूदा अध्यक्ष की सम्मानजनक विदाई की रणनीति बना रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:BCCI की बैठक जारी, श्रीनिवासन नहीं छोड़ना चाहते अध्यक्ष पद