अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइनबोर्ड पर निबंधन संख्या अंकित करना अनिवार्य

सूबे के सभी निबंधित डीलरों को अपनी दुकानों के साइनबोर्ड पर निबंधन संख्या लिखना अनिवार्य हो गया है। वैसे डीलर जो वाणिज्य कर विभाग से निबंधन होने के बावजूद साइनबोर्ड पर निबंधन संख्या अंकित नहीं करते हैं उनपर कार्रवाई होगी। इसके अलावा वैसे दुकानदार जो किसी भी सामान की ब्रिकी पर कैशमेमो नहीं देगा उनपर भी कार्रवाई होगी। वाणिज्य कर विभाग के अधिकारियों का कहना है कि वैट नियमावली में यह स्पष्ट रूप से लिखा हुआ है कि व्यापारियों को अपने द्वारा निर्गत किए गए कैशमेमो में फर्म का नाम, टीन नंबर (निबंधन संख्या), वैट दर, टैक्स इन्वाइस व रिटेल इंवाइस अंकित होना अनिवार्य है।ड्ढr ड्ढr इसके बावजूद अधिकतर व्यापारी न तो निबंधन संख्या अंकित करते हैं और न ही वैट दर। परंतु अब ऐसे डीलरोें पर जल्द ही कार्रवाई होगी। सूबे में कई व्यापारी ऐसे हैं जो सामान बेचने के बाद कैशमेमो भी नहीं काटते हैं। और यदि काटते भी हैं तो वह भी सादे कागजों पर देते हैं। इधर विभाग का यह भी मानना है कि साइन बोर्ड में रािस्टर्ड संख्या अंकित रहने से विभाग के अधिकारियों को निरीक्षण करने में काफी सहूलियत होती है, क्योंकि वाणिज्य कर विभाग में लगभग 1,23000 रािटर्ड डीलर हैं परंतु टैक्स देने वालों की संख्या 50 प्रतिशत से भी कम है। अधिकारियों का कहना है कि यदि आगे भी यही स्थिति रही तो चालू वित्तीय वर्ष में राजस्व संग्रह करना काफी मुश्किल हो जाएगा।ड्ढr ड्ढr पटना-सासाराम बसों सेवा शुरूड्ढr पटना (हि.प्र.)। पथ परिवहन निगम ने ऑफ रूट बसों की सेवा चालू करने की कवायद शुरू कर दी है। फिलहाल पटना से सासाराम के लिए दो बस सेवा शुरू कर दी गई है। इधर आरा से भी सासाराम के लिए दो बस सेवाएं शुरू की गई हैं। निगम के पटना प्रमंडल के प्रमंडलीय प्रबंधक सुरन्द्र प्रसाद ने बताया कि डिपो को टायर और बैट्री मिलते ही नासरीगंज, मुजफ्फरपुर एवं दरभंगा रूट पर बस सेवा बढ़ायी जाएंगी। पटना डीपो से अगले एक-दो महीने के अंदर 17 बंद पड़ीं बसों को चालू करना है। फिलहाल अगले 10 दिनों में छह बसें विभिन्न रूटों पर चलायी जाएंगी। इसके लिए बांकीपुर बस डिपो को पुरानी बस डिपों की मरम्मत के लिए एक लाख रुपए मिल चुके हैं। इसके अलावा मुख्यालय से बैट्री एवं टायर की भी व्यवस्था की जा रही है। हाल ही में एक बैठक कर बिहार राज्य पथ परिवहन निगम ने निर्णय लिया है कि बंद पड़ीं निगम की बसों को फिर से चालू किया जाएगा ताकि ऑफ रूट बसें फिर से सड़क पर दौड़ सकें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: साइनबोर्ड पर निबंधन संख्या अंकित करना अनिवार्य