DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बोर में बंद मिलीं चार हचाार छात्रों की किताबें

राज्य के बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने में प्रकाशक भी पीछे नहीं है। किताब स्कूल तक पहुंचाने की जिम्मेवारी को वह नहीं निभा रहे हैं। सोमवार को एक ऐसा ही उदाहरण सामने आया। अनगड़ा में 240 बोरा किताबें एक टेलर में डंप पायी गयीं। इसमें चार हाार छात्रों की किताबों का सेट है।ड्ढr किताबें जब्त कर संबंधित प्रिंटर एवं पवन मिश्र के खिलाफ देर रात एफआइआर दर्ज करायी गयी। अनगड़ा में समीक्षा के दौरान डीएसइ को किताब रामेश्वर महतो के टेलर में डंप होने की जानकारी मिली। रामेश्वर महतो के लिखित बयान पर पवन मिश्र के खिलाफ भी एफआइआर दर्ज करायी गयी है। डीएसइ ने इसकी सूचना शिक्षा मंत्री समेत डीसी, एसपी को दी। बोरों में कक्षा एक, दो और पांचवीं की किताबें हैं। इन किताबों की आपूर्ति पितांबरा प्रेस लिमिटेड, झांसी ने की है। आपूर्तिकर्ताओं को किताब स्कूल तक पहुंचाने की जिम्मेवारी दी गयी थी, लेकिन परशानी से बचने के लिए आपूर्तिकर्ता प्रखंड तक ही किताब पहुंचाकर अपना पल्ला झाड़ ले रहे हैं। कई प्रखंडों में शिक्षक एवं अन्य लोगों से सेटिंग कर किताब स्कूल तक प्रकाशक पहुंचवा रहे हैं। इसमें अनावश्यक देरी भी हो रही है।ड्ढr कोई सहानुभूति नहींड्ढr शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की ने कहा कि छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का हक किसी को नहीं है। अब प्रकाशकों के साथ किसी तरह की सहानुभूति नहीं रखी जायेगी। 15 तक हर स्कूल में किताब नहीं पहुंचने पर 16 से कार्रवाई की जायेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बोर में बंद मिलीं चार हचाार छात्रों की किताबें