अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घाटी में ताजा हिंसा में 18 की मौत

सीमा पार कर मुजफ्फराबाद जाने की जिद्द कश्मीरियों को भारी पड़ी। श्रीनगर और घाटी के कई अन्य कस्बों में कफ्यरू को धता बता लोगों की सड़कों पर सुरक्षाबलों के साथ जमकर झड़प हुईं। इनमें 18 लोगों की मौत हो गई। दो दिन के दौरान यह आंकड़ा 26 तक जा पहुंचा है। मंगलवार को घाटी के हालात और बिगड़ गए। कश्मीरी एलआसी की आर बढ़ रह थे। एक स्थान पर 6 हजार की भीड़ के एलआसी से मात्र एक किमी पीछे तक पहुंच गए थे। इसी बीच सोमवार को सुरक्षाबलांे की गोली से मरे हुर्रियत नेता शेख अब्दुल अजीज को तनाव और कफ्र्यू के बीच शहीदी कब्रिस्तान में दफना दिया गया। बांडीपारा मंे सेना की फायरिंग से 6 प्रदर्शनकारियों की मौत उस समय हुई जब वे कफ्यरू तोड़ आगे बढ़ने की काशिश कर रहे थे। श्रीनगर के बाग-ए-महताब में भी 4 लागांे की मौत पुलिस फायरिंग में हुई। लसन में भी दो लोग मारे गए। किश्तवाड़ में हिंसा काबू करने के लिए पुलिस को गोली चलानी पड़ी, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा रैनावाड़ी में एक, अनंतनाग क बिजबिहाड़ा मंे दो और मानसबल में दो कश्मीरियों की मौत हेा गई। श्रीनगर शहर मंे स्थानीय टीवी चैनल के कैमरामैन जावेद अहमद की भी पुलिस फायरिंग में मौत हो गई। उधर कफ्र्यूग्रस्त जम्मू, सांबा, उधमपुर मंे मंगलवार को कई घंटों की ढील दी गई, जिसमंे शांति तेा बनी रही पर जमीन वापस लेने की मांग का लेकर प्रदर्शनों का सिलसिला जारी था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: घाटी में ताजा हिंसा में 18 की मौत