अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गंगा में डूबने से दो की मौत

रविवार को क्रिकेट मैच खेलने के बाद आठ-दस साथियों के साथ गंगा नदी में नहाने गए दो युवकों की डूबकर मौत हो गई। दीघा थाना क्षेत्र के पाटीपुल, सियारदास भट्ठा घाट में मेंहदीनगर , समनपुरा निवासी वसी आलम के इकलौते पुत्र मो. शहााद आलम (17) व चौधरी होटल गली, समनपुरा निवासी मो. तौहिद आलम के छोटे पुत्र मो. फिरो (1ी मौत के बाद सनसनी फैल गई। इन दोनों के साथ नहाने गए तीन युवक शहाादा, झुन्नू व तमन्ना (मेंहदीनगर) बाल-बाल बच गए।ड्ढr ड्ढr हालांकि सभी साथियों ने शहााद व फिरो को बचाने का बहुत प्रयास किया पर एक बांस से अधिक गहरे पानी में चले जाने से दोनों की मौत हो गई। घटना के बाद स्थानीय लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। दोनों की मौत होने की सूचना शहाादा , झुन्नू व तमन्ना ने दीघा थाने में दी। उसके बाद थानाध्यक्ष वसगीत राम घटनास्थल पर पहुंचे। फिर जिला प्रशासन को इसकी सूचना दी गई। लगभग पांच घंटे के बाद मछ़ुआरों ने कड़ी मशक्कत के बाद जाल की सहायता से दोनों के शव बरामद किए। मृतकों के परिानों को इसकी सूचना शाम चार बजे शास्त्रीनगर थाने द्वारा दी गई। शहााद शासत्रीनगर हाई स्कूल में दसवीं का छात्र था जबकि फिरो मोबाइल रिपेयरिंग का काम करता था।ड्ढr ड्ढr शहााद, फिरोज, तमन्ना, झुन्नू, शहाादा समेत आठ-दस स्थानीय दोस्त आईाीआईएमएस मैदान में क्रिकेट खेलने के बाद गंगा नदी में नहाने के लिए रवाना हुए। साइकिल से आठ किलोमीटर दूरी तय करने के बाद लगभग 12 बजे सभी घाट पहुंचने के बाद नदी में नहाने चले गए। अचानक शहााद व फिरो दोनों नदी में दूर चले गए। तैरने की कला से अनभिज्ञ दोनों गहर पानी में ऊब-डूब करने लगे। इतने में कुछ साथियों की उन दोनों पर नजर पड़ी। सबों ने दोनों को बचाने के मकसद से बांस आदि का भी सहारा लिया। पर दोनों को नहीं बचा पाए। स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन के लचर रवैये पर रोष व्यक्त करते हुए कहा कि घंटों मछुआरे घाट पर नहीं पहुंचे। बहरहाल किसी तरह दोनों का शव बरामद कर लिया गया। दोनों का शव शाम छह बजे उनके घर पहुंचा। दोनों के शव को देखते ही पजिन व स्थानीय लोग दहाड़ मार कर रोने लगे। सोमवार को दोनों को वेटनरी कॉलेज कब्रिस्तान में सुपूर्द-ए- खाक किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गंगा में डूबने से दो की मौत