अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लखनऊ-आगरा में सॉलिड वेस्ट पर सरकार गंभीर

प्रदेश सरकार लखनऊ और आगरा में कूड़ा निस्तारण प्रबन्धन (सालिड वेस्ट मैनेामेंट) को लेकर सरकार काफी गंभीर है। प्रदेश सरकार के अफसरों नेोल निगम और सालिड वेस्ट मैनेामेंट के विशेषज्ञों के साथ बैठक की और निर्देश दिए कि वे अगले हफ्ते अपने सिस्टम का प्रदर्शन करं।ड्ढr राय सरकार सालिड वेस्ट मैनेामेंट को ोएनएनयूआरएम के तहत तेाी से कराना चाहती है। इसीलिए बीते एक साल में नगर निगमों को कूड़ा प्रबन्धन की प्रोोक्ट रिपोर्ट माँगीोा रही है। नगर विकास विभाग ने कहा है कि योना इस प्रकार बनाईोाए कि शहर का कूड़ा भी खत्म होोाए और प्रदूषण भी न बढ़े। यही कारण है कि एक लम्बे समय से सरकार को सालिड वेस्ट मैनेामेंट की कोई अच्छी योना नहीं मिल पा रही है। अधिकारियों ने दक्षिण भारत की एक कम्पनी के उस प्रस्ताव को पूरी तौर से ठुकरा दिया,ोिसमें कूड़े से बिाली बनाने की बात कही गई थी। अफसरों ने बताया कि करीब सौ करोड़ रुपए की ऐसी ही योना लखनऊ में शुरू की गई थी, उससे न बिाली बनी और न ही कूड़े का पूरी तौर से निस्तारण हो सका।ोल निगम और सालिड वेस्ट मैनेामेंट पर काम कर रही कम्पनियों से नगर विकास विभाग के अधिकारियों ने कहा है कि वे अगले सप्ताह अपनी योनाओं का प्रदर्शन करं। शासन इस बात से संतुष्ट होना चाहता है कि सालिड वेस्ट मैनेामेंट की योना पूरी तौर से ‘फूल प्रूफ’ है या नहीं। इस बैठक की अध्यक्षता नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव एसआर लाखा ने की। बैठक में सचिव नवनीत सहगल, विशेष सचिव एसपी मिश्र समेतोल निगम के अधिकारी भी मौाूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लखनऊ-आगरा में सॉलिड वेस्ट पर सरकार गंभीर