DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रचंड सोमवार को संभालेंगे नेपाल की कमान

नेपाल के पूर्व छापामार नेता पुष्प कमल दहल प्रचंड के सोमवार को देश के प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण करने के साथ ही देश में चार महीने से व्याप्त राजनीतिक शून्य भर जाएगा। शुक्रवार को नेपाली कांग्रेस के प्रत्याशी को करारी शिकस्त देने वाले प्रचंड को सोमवार दोपहर बाद राष्ट्रपति राम बरन यादव पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे। प्रचंड के शपथ ग्रहण समारोह में सभी सुरक्षा बलों के प्रमुख, राजनयिक और नौकरशाह शिरकत करेंगे। प्रचंड के साथ 23 सदस्यीय मंत्रीपरिषद के भी शपथ लेने की संभावना है। ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि माओवादी रक्षा और वित्त मंत्रालय अपने ही पास रखेंगे। यूएमएल और एमजेएफ उप प्रधानमंत्री और अन्य प्रमुख मंत्रालय हासिल करने के जुगाड़ में हैं। एमजेएफ ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि प्रतिष्ठित मंत्रालय नहीं मिलने की सूरत में वह प्रचंड के नेतृत्व वाली सरकार में शामिल नहीं होगी। देश को 13 प्रधानमंत्री देने वाली नेपाली कांग्रेस विपक्ष में बैठेगी। प्रचंड देश के 50वें प्रधानमंत्री हैं। तीन दशक से ज्यादा अर्से के राजनीतिक जीवन में सत्ता स्वाद चखने का मौका प्रचंड को पहली बार मिला है। गत अप्रैल के चुनावों में प्रचंड को दो निर्वाचन स्थलों पर कामयाबी मिली थी। कुछ बरस पहले तक माओवादियों ने राजशाही के खिलाफ सशस्त्र संघर्ष छेड़ रखा था और उन्हें आतंकवादी कहा जाता था। नेपाल में माओवादियों की यह पहली सरकार है। प्रचंड की सबसे बड़ी चुनौती गठबंधन सरकार को दो वर्ष तक टिकाए रखने की होगी, ताकि नेपाल में नया संविधान लागू हो सके।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: प्रचंड सोमवार को संभालेंगे नेपाल की कमान