अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रीसैट-2 जासूसी उपग्रह नहीं है: इसरो प्रमुख

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) प्रमुख जी माधवन नायर ने सोमवार को इस बात से साफ इनकार किया कि रीसैट-2 इजरायल निर्मित एवं जासूसी उपग्रह है। नायर ने उपग्रह प्रक्षेपण के बाद शार केंद्र पर संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हमारे कार्यसूची में कोई जासूसी उपग्रह जैसी कोई चीज नहीं है। हमारे पास केवल भू-अवलोकन उपग्रह, संचार उपग्रह और वैज्ञानिक उपग्रह शामिल हैं। नायर ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि रीसैट-2 एक अन्य भू अवलोकन उपग्रह है। इसरो में जासूसी उपग्रह जैसी कोई चीज नहीं है। उन्होंने कहा कि यह उपग्रह इजरायल से खरीदा गया था। दूसरा रीसैट उपग्रह इस वर्ष प्रक्षेपित किया जाएगा, जिसे इसरो ही बनाएगा एवं संचालित करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रीसैट-2 जासूसी उपग्रह नहीं है: इसरो प्रमुख