DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2009 की वार्षिक परीक्षा में बैठ सकते

इंटर वार्षिक परीक्षा 2008 में परीक्षा देने से वंचित किए गए छात्रों को बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने एक और मौका देने का निर्णय लिया है। पिछले साल परीक्षा में दो-दो स्थानों से पंजीकरण कराने वाले लगभग 20 हाार छात्रों को परीक्षा देने से वंचित कर दिया गया था। अब ऐसे छात्र वार्षिक परीक्षा 200में बैठ सकते हैं। समिति ने इसके लिए उन छात्रों को अपने मूल स्कूल या कॉलेज से ही आईसीआर फार्म भरने का निर्देश दिया है।ड्ढr ड्ढr दो स्थान से पंजीकरण करने वाले व फार्म भरनेवाले छात्रों को इस वर्ष हुई इंटर परीक्षा भाग लेने से वंचित कर दिया गया था। समिति ने ऐसे छात्रों को परीक्षा के समय प्रवेश पत्र ही जारी नहीं किया था। समिति के इस निर्णय ने से हाारों छात्रों को परीक्षा देने से वंचित होना पड़ा था। समिति ने अगले वर्ष होनेवाली परीक्षाओं में इन छात्रों के भाग लेने की अनुमति प्रदान कर दी है। समिति के सचिव अनूप कुमार सिन्हा का कहना है कि सत्र 2006-08 में दो-दो कॉलेजों से पंजीकरण किए जाने को लेकर कुछ छात्रों को परीक्षा देने से वंचित कर दिया गया था। ऐसे विद्यार्थी केवल उसी कॉलेज से आईसीआर फार्म भर सकते हैं जहां उन्होंने मूल विद्यालय परित्याग प्रमाण पत्र (सीएलसी) के आधार पर नामांकन लिया हो।ड्ढr ड्ढr इसकी पुष्टि उच्च माध्यमिक स्कूल या कॉलेज के प्राचार्य करंगे। इसमें से वैसे छात्र जिन्होंने मैट्रिक की परीक्षा भी बिहार बोर्ड से ही पास की होगी उन्हें उसी सूचीकरण के आधार पर परीक्षा में बैठने की अनुमति प्रदान की जाएगी। अन्य बोर्ड से आकर बिहार बोर्ड से 12वीं की परीक्षा देने वाले छात्रों को फिर से पंजीकरण कराना होगा। साथ ही समिति ने इस बार दो स्थानों से छात्रों के आईसीआर फार्म भर जाने पर रोक लगाते हुए कॉलेज व स्कूल के प्राचार्य को इसके लिए पूरी तरह से जवाबदेह बनाया है। गड़बड़ी करनेवाले अधिकारियों पर समिति ने कड़ी कार्रवाई के निर्देश पहले से ही दे रखे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 2009 की वार्षिक परीक्षा में बैठ सकते