DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘नैनो’ की ऐसी दीवानगी कि दे दी जान

आम आदमी की कार ‘नैनो’ के प्रति दीवानगी में सोमवार को एक व्यक्ित ने अपनी जान दे दी। टाटा मोटर्स की बहुचर्चित लखटकिया कार के इस दीवाने ने अपनी कामकाजी बीबी द्वारा नैनो की बुकिंग के लिए रजामंदी नहीं जताने पर रविवार शाम कथित तौर पर फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली। पुलिस सूत्रों ने सोमवार को बताया कि नगर के सिदगोड़ा क्षेत्र में एग्रिको निवासी अरूण तिवारी (40) ने कुछ ही दिन पहले पत्नी से नैनो की बुकिंग कराने की मांग की थी। इस बात को लेकर उसके परिवार मे पिछले तीन चार दिन से विवाद चल रहा था। बताया जाता है कि नैनो की बुकिंग से इनकार किए जाने से अरुण का दिल ऐसा टूटा कि रविवार शाम उसने अपने घर में पंखे से धोती का फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली। सूत्रों ने बताया कि पेशे से एलआईसी एजेंट अरुण ने दो शादियां की थी। उसकी दूसरी बीबी टाटा स्टील की सहायक कंपनी जुस्को में चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी है, जबकि पहली पत्नी घरेलू महिला है। नैनो की बुकिंग को लेकर दोनो पत्नियों में भी कहासुनी हुई थी। अरुण की कामकाजी बीबी ने उसे कुछ माह पहले ही एक मोटरसाइकिल दिलाई थी पर वह इसे बेच कर ‘नैनो’ खरीदना चाहता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘नैनो’ की ऐसी दीवानगी कि दे दी जान