अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धरना-प्रदर्शन की चेतावनी

आरसीएच सोसाइटी नामकोम में दवा खरीद में व्यापक पैमाने पर अनियमितता की शिकायत मिली है। कतिपय अधिकारियों पर कुछ खास आपूर्तिकताओं को फायदा पहुंचाने का आरोप लगा है। यही कारण है कि कई कंपनियों ने इस बाबत अपनी आपत्ति दर्ज करायी है।ड्ढr इन कंपनियों का कहना है कि आरसीएच में दवा खरीद के लिए टेंडर आमंत्रित किया गया है। इसके लिए टेंडर पेपर दिया जाना है। हालांकि समिति के अधिकारी दो आपूर्तिकर्ताओं आर फोगला और कुांबिहारी को फायदा पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। यहीं कारण है कि अन्य कंपनियों को बगैर किसी आधार के तकनीकी रूप से अक्षम बता कर टेंडर पेपर नहीं दिया जा रहा है। टेंडर रद्द नहीं होने की स्थिति में धरना-प्रदर्शन करने की भी चेतावनी दी है। समग्र चेतना ने कहा है कि वे 15 दिन से मदर एनजीओ के चयन के लिए प्रतिवेदन कार्यालय में जमा करना चाह रहे हैं, लेकिन प्रतिवेदन जमा लेने की बजाय उनको अनाधिकृत एजेंटों के पास भेज दिया जाता है। इधर आरसीएच पदाधिकारी डॉ विजय शंकर नारायण सिंह ने इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा है कि दवा खरीद में पारदर्शिता बरती जा रही है। कंपनियों द्वारा लगाया गया आरोप सही नहीं है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: धरना-प्रदर्शन की चेतावनी