अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शांति की कवायद, नारायणन श्रीनगर पहुंचे

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एमके नारायणन बुधवार सुबह श्रीनगर पहुंचे। उधर, कई सप्ताहों तक चले विरोध प्रदर्शनों के बाद घाटी में लगातार दूसरे दिन शंति बनी रही। नारायणन के साथ खुफिया ब्यूरो के निदेशक एसी हलदार और गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारी एक दिन के दौरे पर घाटी पहुंचे हैं। इस दौरे का उद्देश्य अमरनाथ भूमि विवाद के बाद राज्य में सांप्रदायिक विभाजन से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा करना और उसके हल के लिए रास्ता ढूंढ़ना है। घाटी में मंगलवार को स्कूल, दुकानें और सरकारी कार्यालय खुले रहे। जम्मू द्वारा घाटी की ‘आर्थिक नाकेबंदी’ के विरोध में किए गए प्रदर्शनों के कारण ठप आम जनजीवन मंगलवार को कई दिनों बाद पटरी पर वापस आया। घाटी के व्यापारिक प्रतिष्ठानों में भी कामकाज शुरू हो गया है। एटीएम केंद्रों के बाहर लंबी कतारें देखी गईं। गौरतलब है कि घाटी की कथित ‘आर्थिक नाकेबंदी’ के विरोध में बारामूला में नियंत्रण रेखा की ओर मार्च कर लोगों पर सुरक्षा बलों द्वारा चलाई गई गोली में 11 अगस्त को हुर्रियत कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सहित पांच लोगों की मौत हो गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शांति की कवायद, नारायणन श्रीनगर पहुंचे