अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पानी चुरानेवाले होशियार

पानी चुरानेवाले होशियार। पकड़े जाने पर दंडित होंगे। एक खास एरिया में मीटर लगेगा, वह बतायेगा आपने अपने घर में कितने पानी का उपयोग किया है। मीटर के साथ छेड़छाड़ पर दंडात्मक कार्रवाई सुनिश्चित है। राजधानी में पानी के सही तरीके से उपयोग के लिए इस अभिनव योजना को रांची नगर निगम मूर्त रूप देने जा रहा है। 2.86 करोड़ की केंद्र प्रायोजित इस योजना के तहत काम किया जाना है।ड्ढr निगम के सहायक मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी डॉ सुनील कुमार के मुताबिक नगर निगम शहर में 40-50 स्थानों पर बल्क मीटर लगायेगा। इसके माध्यम से उस इलाके में कितने किलोलीटर पानी की आपूर्ति हुई और कितने घरों में कितना पानी मिला, इसका भी पता चल जायेगा। इससे अवैध रूप से वाटर का कनेक्शन लेकर पानी की चोरी करनेवाले उपभोक्ता तो पकड़े जायेंगे ही, कई स्थानों पर फटी पाइप से पानी की बर्बादी को भी रोका जा सकेगा। हर उपभोक्ता के घर में वाटर मीटर लगाया जायेगा। शहर को सात जोन में बांटा गया है। इनमें तुपुदाना, हटिया, कुसई कॉलोनी, पुंदाग, डिबडीह, हरमू और रानी बगान शामिल हैं। इन क्षेत्रों में पाइप लाइन बिछायी जायेगी। 24 घंटे मिलेगा पानीसंवाददाता रांची राजधानीवासियों को अब 24 घंटे पानी उपलब्ध कराया जायेगा। पेयजल उपभोक्ताओं को सातों दिन 24 घंटे पानी मिलेगा।ड्ढr रांची नगर निगम द्वारा जेएनयूआरएम की वाटर सप्लाई योजना को जल्द ही धरातल पर उतारा जायेगा। योजना पर केंद्र सरकार ने अपनी सहमति भी दे दी है। अगर योजना धरातल पर उतर गयी, तो राजधानी के लोगों को पेयजल की समस्या से पूरी तरह से निजात मिल जायेगा और हर इलाके में पानी मिलेगा। इस योजना के लिए केंद्र सरकार ने दो करोड़ 86 लाख रुपये रांची नगर निगम को देने की स्वीकृति दे दी है। कार धोना और पानी पटाना अब महंगा पड़ेगासंवाददाता रांची खेतों में पानी पटाना, कार धोना और पानी बरबाद करना उपभोक्ताओं को अब महंगा पड़ेगा। रांची नगर निगम ने पानी सप्लाई का रट बढ़ाने का फैसला लिया है। इसके तहत अब 25 किलोलीटर से अधिक पानी खर्च करनेवाले उपभोक्ताओं से प्रतिकिलोलीटर सात रुपये की दर से वाटर टैक्स लिया जायेगा। 40 किलोलीटर से अधिक पानी खर्च करनेवाले उपभोक्ताओं से 10 रुपये प्रतिकिलोलीटर की दर से वाटर टैक्स वसूला जायेगा। केंद्र प्रायोजित जेएनयूआरएम योजना के तहत 25 किलोलीटर तक पानी खर्च करनेवालों से पांच रुपये की दर से प्रतिकिलोलीटर टैक्स लिया जायेगा। उप मुख्य कार्यपालक पदाधिकारी डॉ मुकेश वार्मा के अनुसार वाटर कनेक्शन लेते वक्त उपभोक्ताओं से सिक्टूरिटी मनी 22 सौ रुपये लिये जाते हैं। इस दर में कमी की गयी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पानी चुरानेवाले होशियार