DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दियारा से लोग कर रहे पलायन

बाढ़ की विभीषिका पिछले पांच दिनों से दानापुर दियारा की छह पंचायतों के लोग झेलने को विवश हैं। वहीं पटना सदर के नकटा दियारा के लोग भी बाढ़ की भयावह स्थिति झेल रहे हैं। गांवों में चार से पांच फीट बाढ़ का पानी बह रहा है। बाढ़ में झोपड़ी डूबने के बाद पूर परिवारों के साथ पलायन कर बलदेव स्कूल शिविर में शरण लिये हुए हैं। वहीं बाढ़ से दानापुर दियारा व नकटा दियारा में लाखों की फसलें बहकर बबराद हो गईं। बाढ़ प्रभावित लोगों दाने-दाने के लिए मोहताज हैं।ड्ढr ड्ढr प्रशासन द्वारा बचाव व राहत के नाम पर केवल खानपूर्ति की जा रही है जिससे बाढ़पीड़ितों में रोष है। मंगलवार की रात कासिमचक में आधा र्दान घर गंगा में विलीन हो गए। वहीं नकटा दियारा के मुखिया अशोक कुमार सिंह व वार्ड सदस्य ने बताया कि बाढ़ का पानी गांवों में 8 सेीट बह रहा है। कटाव जारी है। श्री सिंह ने बताया कि करीब चार हाार बाढ़पीड़ितों की सूची सीओ को दी गई है परंतु आज तक बचाव व राहत कार्य शुरू नहीं किया गया है। बाढ़ से कासिमचक व पुरानी पानापुर के लोगों की भारी तबाही हुई है। एसडीओ सुनील कुमार ने बताया कि बलदेव स्कूल शिविर में बाढ़-पीड़ितों को भोजन पकाकर वितरण बुधवार से शुरू कर दिया गया है। शिविर में 804 परिवार के चार सौ लोग हैं। वहीं सीओ ने बताया कि दियारा की चार पंचायत में राहत सामग्री भेजी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दियारा से लोग कर रहे पलायन