DA Image
4 अप्रैल, 2020|2:11|IST

अगली स्टोरी

माले कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन हचाारों की हुई गिरफ्तारी

भाकपा माले ने कमरतोड़ महंगाई, लोकतंत्र पर बढ़ते हमले, कृषि संकट और केन्द्र और राज्य सरकार को साम्राज्यवादपरस्ती व जनविरोधी बताते हुए बुधवार को आहूत देशव्यापी जेल भरो आंदोलन में हजारों लोगों की गिरफ्तारी का दावा किया है। पार्टी ने कहा है कि रोहतास, जहानाबाद, गया, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय, गोपालगंज, दरभंगा, भागलपुर, पूर्णिया समेत सभी जिला मुख्यालयों पर कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी। पटना में राज्य सचिव नंदकिशोर प्रसाद, स्वदेश भट्टाचार्य, रामेश्वर प्रसाद, कृष्णदेव यादव, धीरन्द्र झा, सरोज चौबे, मीना तिवारी, शशि यादव, पवन शर्मा समेत कई वरीय नेताओं ने भी गिरफ्तारी दी।ड्ढr ड्ढr राज्य कार्यालय सचिव संतोष सहर ने कहा कि जेल भरो कार्यक्रम के तहत पूर प्रदेश में 50 हजार से अधिक माले कार्यकर्ता गिरफ्तार किये गये। सुबह से ही गिरफ्तारी देने वालों का जत्था सड़क पर उतर गया। बेलगाम पुलिस जुल्म पर रोक लगाने, कृषि को देशी-विदेशी बड़ी कंपनियों केचंगुल से मुक्त कराने, बीपीएल-नरगा में जारी भ्रष्टाचार पर रोक लगाने समेत जनविरोधी नीतियों का खिलाफत करते हुए माले नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने पूर राज्य में प्रदर्शन किया। राज्य सचिव नंदकिशोर प्रसाद ने कहा कि बन्द ऐतिहासिक रहा जो केन्द्र और राज्य सरकार के खिलाफ जनता के बढ़ रहे असंतोष को जाहिर कर रहा है। भारत-अमेरिका परमाणु करार पर भले ही संसद में मुहर लग जाये पर देशभक्त एवं जनवादी शक्ितयां इसको खारिज कर रही हैं। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में विश्व बैंक के मार्गदर्शन में चलने वाली केन्द्र व राज्य सरकारों के खिलाफ जनांदोलन तेज किया जाएगा जिसमें तमाम मेहनतकश गरीब वर्ग, छात्र-नौजवान और तरक्कीपसंद लोगों को शामिल किया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: माले कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन हचाारों की हुई गिरफ्तारी