अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब भारत का दारोमदार महिला रिले टीम पर

नौ एथलीटों के स्तरहीन प्रदर्शन के बाद अब ओलंपिक एथलेटिक्स स्पर्धाओं में भारत की प्रतिष्ठा बचाने का सारा दारोमदार चार गुणा 400 मी. महिला रिले टीम पर आ गया है। पिछले कुछ महीनों में महिला रिले टीम की सबसे यादा चर्चा रही है। खेल मंत्री एम. एस. गिल ने भी उम्मीद जताई थी कि रिले टीम फाइनल में पहुंच सकती है और पदक जीत सकती है। लेकिन यह आश्चर्यजनक है कि ऐसी रिले टीम पर इतना यादा ध्यान दिया जा रहा है जिसे क्वालीफाई करने के लिए संघर्ष करना पड़ा था और अब उसे पदक उम्मीद माना जा रहा है। भारतीय रिले टीम बीजिंग ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली 16 टीमों में 15वें नम्बर पर आती है। पिछले एथेंस ओलंपिक में रिले टीम ने हीट में 3 मिनट 26.8सेकंड का समय निकाला था जो आज भी राष्ट्रीय रिकॉर्ड है। रिले टीम एथेंस में फाइनल में सातवें स्थान पर रही थी। इस बार यदि टीम फाइनल में पहुंच जाती है तो यह उसके लिए बड़ी उपलब्धि होगी। टीम की दो सदस्य मंदीप और मंजीत कौर का हालांकि 53 सेकंड से नीचे का समय है, लेकिन शेष अन्य उस स्तर की नहीं हैं। मंदीप ने तो मदुरै में 51.74 सेकंड का समय निकाला था। मंजीत 400 मी. दौड़ में राष्ट्रीय रिकॉर्डधारी हैं। मैनेजर किरपाल सिंह ने बताया कि टीम प्रबंधन ने रिले के लिए छह नाम दिए हैं, लेकिन अंतिम चार का फैसला रिले से एक घंटा पहले किया जाएगा। उन्होंने साथ ही कहा, ‘अभी यह तय नहीं है कि शुरुआत कौन करेगा। इसका फैसला भी हम शुक्रवार को करेंगे।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब भारत का दारोमदार महिला रिले टीम पर