अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

42 विधायकों की सूची के बगैर नहीं बुलायें राज्यपाल

रांची। भाजपा ने कहा है कि राज्यपाल सैयद सिब्ते राी 42 विधायकों की सूची लिये बगैर सरकार बनाने के लिए शिबू सोरन को आमंत्रित नहीं करं। विधायक सीपी सिंह, सरयू राय, दिनेश षाडंगी और अशोक कुमार ने कहा कि राज्यपाल को राजभवन में समर्थित विधायकों का परड कराने के बाद ही सरकार बनवाना चाहिए, क्योंकि पूर्व में भी राजभवन ऐसा न करके राज्य की होनेवाली बदनामी को देख चुका है।निर्दलीयों ने फिर कहा शिबू को सपोर्ट नहींस्टीफन मरांडी, भानू प्रताप शाही, जोबा मांझी और चंद्रप्रकाश चौधरी ने फिर दुहराया है कि राज्य में नेतृत्व परिवर्तन का सीन नहीं है।ड्ढr हम अपने पुराने स्टैंड पर कायम हैं : स्टीफनड्ढr मधु कोड़ा के समर्थन में मुहिम संभाले डिप्टी सीएम स्टीफन मरांड निर्दलीयों को समेट रखने की कोशिश में जुटे हैं। हर सवाल का एक ही जवाब देते हैं: किसी भी हाल में शिबू सोरन को समर्थन नहीं दे सकते। नेतृत्व कहेगा कि शिबू का समर्थन कीािये, तो तब क्या करंगे, सवाल पर मरांडी ने कहा कि अगर- मगर का क्या जवाब दें। राजद- कांग्रेस ने दिल्ली में बैठक कर शिबू सोरन को समर्थन देने की हरी झंडी दे दी है, इस मामले में मरांडी ने कहा कि ऑफिसियल ढंग से किसी नेता ने इस फैसले के बार में निर्दलीयों को कुछ नहीं संकेत दिया है। वैसे 25 से पहले रास्ता निकल जाये, तो अच्छा।ड्ढr दिल्ली दरबार से अब तक कोई निर्देश नहीं : भानूड्ढr स्वास्थ्य मंत्री भानूप्रताप शाही ने कहा है कि राजनीतिक संकट की इस स्थिति में दिल्ली दरबार ने किसी प्रकार की पहल नहीं की है। कोई भी गार्जियनशिप करने सामने नहीं आया है और ना ही कोई निर्देश आया है। दिल्ली में कांग्रेस- राजद ने शिबू सोरन को समर्थन दे दिया है इस बात पर शाही ने कहा कि मीडिया के मार्फत यही सुन- देख रहा हूं। झामुमो के समर्थन वापस लिये पांच दिन हो गये, लेकिन यूपीए नेतृत्व ने निर्दलीयों से स्पष्ट तौर पर कुछ भी नहीं कहा है। निर्दलीय क्या चाहते हैं? शाही ने कहा कि सब कुछ सामने है। हम किसी भी हाल में नेतृत्व परिवर्तन के पक्ष में नहीं हैं। रो विचार- विमर्श हो रहा है।भोज की राजनीति के बार में कहा कि ऐसे हालात मे भोज की राजनीति महत्वपूर्ण हो ही जाती है। निर्दलीय कब तक पाला बदलेंगे पूछे जाने पर कहा कि हम तो बदलने वाले नहीं।ड्ढr कोई दूसरी सरकार नहीं बनेगी: जोबा मांझीड्ढr स्टीफन मरांडी के आवास पर मंत्रियों के साथ खाने पर पहुंचीं मंत्री जोबा मांझी ने कहा कि राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की कोई स्थिति नहीं है। सभी निर्दलीय इंटैक्ट हैं। यह स्टैंड कब तक कायम रह पायेगा पूछे जाने पर कहा कि कोई दूसरी सरकार नहीं बनने वाली है। नजम अंसारी ने मीडिया से बचते- बचाते कहा कि हमार प्रवक्ता भानू जी हैं वही सब कुछ कहेंगे।ड्ढr फैसला फाइनल है,सपोर्ट नहीं: चंद्रप्रकाश चौधरीड्ढr मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी का कहना है कि फाइनल फैसला है। शिबू सोरन को सपोर्ट नहीं कर सकते। यूपीए नेतृत्व समर्थन करने को कहेगा, तब क्या करंगे? पूछे जाने पर कहा कि निर्दलीयों के बीच बात होगी। जो तय होगा वह देखा जायेगा। पर अभी तक निर्दलीय एकाुट हैं। दिल्ली में क्या बात हुई है, हमें जानकारी नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: 42 विधायकों की सूची के बगैर नहीं बुलायें राज्यपाल