DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गुरुचाी का मुख्यमंत्री बनना तय

झारखंड के सत्ता संघर्ष में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रमों के बीच दिल्ली पहुंचे राज्य के निर्दलीय मुख्यमंत्री मधुकोड़ा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात के बाद कहा कि वह अपने राजनीतिक निर्णय का खुलासा शनिवार को करंगे। हालांकि कांग्रेस सूत्रों के अनुसार आलाकमान ने उन्हें राज्य में यूपीए की एकाुटता की खातिर पद छोड़ देने के स्पष्ट निर्देश दे दिए हैं। बाद में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, विदेश मंत्री प्रणव मुखर्जी के घर हुई महत्वपूर्ण बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल, राजद सुप्रीमो, रल मंत्री लालू प्रसाद यादव के साथ ही मधु कोड़ा और शिबू सोरन भी शामिल हुए। यूपीए सूत्रों के अनुसार देर रात तक चली इस बैठक में झारखंड यूपीए में सत्ता के हस्तांतरण के साथ ही श्री कोड़ा और उनके समर्थक निर्दलीय विधायकों-मंत्रियों के राजनीतिक भविष्य के बार में भी विचार हुआ। दिल्ली पहुंचने से पहले रांची में विश्वासमत हासिल करने की बातें करने वाले श्री कोड़ा का रुख लालू प्रसाद से मुलाकात के बाद से ही ढीला पड़ने लगा। कल तक परोक्ष रूप से श्री कोड़ा के सिर पर अपने समर्थन का हाथ रखने वाले लालू प्रसाद ने कांग्रेस आलाकमान के रुख की दुहाई देते हुए अपने हाथ खड़े कर दिए। श्री कोड़ा ने उन्हें और आलाकमान को भी समझााने की कोशिश की कि उनके समर्थक निर्दलीय विधायकों में से अधिकतर श्री सोरन के साथ जाने के पक्ष में नहीं हैं लेकिन बात नहीं बनी। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार श्री कोड़ा के सामने राज्य में गुरू जी का डिप्टी बनने, विधानसभाध्यक्ष बनने, केंद्र में ऐडास्ट किए जाने जसे कई प्रस्ताव हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गुरुचाी का मुख्यमंत्री बनना तय