अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जख्मी दिल कांग्रेसियों ने निकाली भड़ास

आखिरकार दिल्ली में डेरा डाले बैठे जख्मी दिल कांग्रेसियों की पीड़ा राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सुनी और इसपर विचार करने का भी आश्वासन दिया। राष्ट्रीय अध्यक्ष से हुई आधे घंटे की मुलाकात में विक्षुब्ध जितना कह सकते थे, उतना कह डाला। वे अपने साथ नये प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा का ‘असली’ बायोडाटा भी लेकर पहुंचे थे। विक्षुब्धों की कमान थामे महाचंद्र प्रसाद सिंह ने दावा किया कि उनके साथ 45 लोग दिल्ली पहुंचे हैं।ड्ढr ड्ढr श्रीमती गांधी के निर्देश पर 12 लोगों की टीम उनसे मिलने गई। विक्षुब्धों का कहना था कि बिहार में ऐसे व्यक्ित को अध्यक्ष बना दिया गया है जिसके साथ सीनियर नेताओं का बैठना मुश्किल है। इससे कांग्रेस का कोई भी कार्यकर्ता अथवा नेता प्रसन्न नहीं है। श्रीमती गांधी को सौंपे गए ‘असली’ बायोडाटा में कहा गया है कि श्री शर्मा संजय विचार मंच, डेमोक्रेटिक सोशलिस्ट पार्टी और जनता पार्टी होते हुए कांग्रेस में आए। इसके बाद फिर भारत बचाओ मोर्चा और जन आस्था की राजनीति करने लगे। फिर कांग्रेस में लौटे, चुनाव लड़े और हार। वर्ष 2000 से वे दिल्ली में हैं। अचानक उन्हें प्रदेश अध्यक्ष बना दिया गया।ड्ढr ड्ढr महाचंद्र प्रसाद सिंह ने प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा के इस दावे को सत्य से पर बताया कि उन्होंने उनसे दूरभाष पर बात की है। श्री सिंह ने कहा कि श्री शर्मा भ्रम पैदा करने के लिए जो बात कह रहे हैं वह कांग्रेसी संस्कृति के भी विरुद्ध है। श्रीमती गांधी से मिलने गए प्रतिनिधिमंडल में श्री सिंह के अलावा प्रभावती गुप्ता, हीरा सिंह, मुन्ना शाही, प्रभात कुमार, शंभुनाथ सिन्हा, रवीन्द्र यादव, दिलीप कुमार चौधरी, बाबुद्दीन खान और आजमी बारी आदि शामिल थे। नीतीश को छात्रों के अधिकारों का ज्ञान नहींड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तो बरसे लेकिन लालू प्रसाद के बार में उन्होंने कहा कि वे प्रदेश कांग्रेस के लिए कोई समस्या नहीं हैं। छात्र संघ का चुनाव कराने की मांग पर तो उनका जोर रहा लेकिन अंत-अंत तक वे नहीं बता सके कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस बिहार में कितनी सीट मांगेगी। श्री शर्मा शनिवार को संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पहले वे पार्टी संगठन को मजबूत बनाएंगे और इसके बाद सीट मांगेंगे। उन्होंने कहा कि उन्हें अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर कोई विवाद नहीं है और महाचन्द्र प्रसाद सिंह ने दूरभाष पर साथ होने का वादा किया है।ड्ढr ड्ढr उन्होंने नीतीश कुमार का नाम लिए बगैर कहा कि एक ऐसा बहुरूपिया बिहार की गद्दी पर बैठा है जिसने कभी जातीय चेतना रैली से अपनी राजनीति चमकाई थी। ऐसे राजनेताओं को बेनकाब करने के लिए कांग्रेस अभियान चलाएगी। उनका मानना था कि नीतीश कुमार कभी निर्वाचित छात्र नेता नहीं रहे हैं इसीलिए उन्हें छात्रों के जनतांत्रिक अधिकारों के महत्व का ज्ञान नहीं है। विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में छात्र संघ का चुनाव कराने की मांग को लेकर कांग्रेस का एक शिष्टमंडल कुलाधिपति आर.एल. भाटिया से मिलेगा।ड्ढr ड्ढr इस मांग के समर्थन में छात्रों को एकाुट करने के लिए छात्र जागरण अभियान भी चलाया जाएगा। इसके अलावा पार्टी संगठन के सशक्तीकरण के लिए अनवरत सदस्यता अभियान चलाएगी। इसके उद्घाटन के लिए कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव राहुल गांधी को आमंत्रित किया जाएगा। संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष मदन मोहन झा, विनिता विजय, समीर कुमार सिंह, डा. जावेद , पूर्व केन्द्रीय मंत्री प्रो. के.के. तिवारी, पूर्व मंत्री अशोक चौधरी, संजीव प्रसाद टोनी, प्रवक्ता अमलेन्दु पाण्डेय और राष्ट्रीय सचिव शकीलुज्जमां अंसारी आदि भी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जख्मी दिल कांग्रेसियों ने निकाली भड़ास