अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राघोपुर का शिवकुमारपुर गांव गंगा में विलीन

प्रतिपक्ष की नेता राबड़ी देवी के विधान सभा क्षेत्र राघोपुर प्रखंड का जहांगीरपुर पंचायत का शिवकुमारपुर गांव सरकारी फाइलों में भले ही रवेन्यु विलेज के रुप में जाना जाता है लेकिन शुक्रवार की रात गंगा नदी के बढ़े जलस्तर और उफनती तेज धार के कटाव में यह गांव पूर्णत: उसकी पेट में समा गया।ड्ढr मालूम हो कि कटाव एक महीने से जारी था तथा इस संबंध में खबरं भी प्रकाशित हुई थीं। हाारों लोग प्रखंड के दूसर गांवों, हाजीपुर व पटना की ओर पलायन कर गए हैं।ड्ढr ड्ढr गांव का एक दो मंजिला मध्य विद्यालय, इंदिरा आवास योजना से बने सैकड़ों पक्के मकान, सरकारी अस्पताल, सामुदायिक भवन आदि का अस्तित्व समाप्त हो गया और लोगों की याद में शिवकुमारपुर गांव एक इतिहास बनकर रह गया। कटाव में अप्रत्याशित तेजी आने से विगत दो दिनों में जफराबाद गांव की लगभग डेढ़ सौ एकड़ जमीन गंगा के पेट में समा गयी। जहांगीरपुर उच्च विद्यालय भी अब कटाव के कगार पर है। ग्रामीण विन्दा राय, सीताराम राय, पंचा राय, प्रदीप राय और शिवकुमारपुर के मुखिया राम भजन साह ने बताया कि शिवकुमारपुर गांव के कटाव होने पर कुछ ग्रामीणों ने जफराबाद में तंबु तान कर व झोपड़ी बना शरण लिया था। इस गांव में कटाव होने से लोगों में दहशत है कि अब जाएं तो कहां जाएं। पूर्व मंत्री उदय नारायण राय उर्फ भोला राय ने शनिवार को कटावग्रस्त इलाके का भ्रमण कर लौटने के बाद बताया कि राज्य सरकार राघोपुर के लोगों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। कटाव व बाढ़ से दियारावासी त्रस्त हैं। प्रशासन की उदासीनता से यहां न तो सरकारी नाव की व्यवस्था की गई है और न राहत सामग्री भेजी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: राघोपुर का शिवकुमारपुर गांव गंगा में विलीन