DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

..और मुख्यमंत्री हो गए भावुक

चिलचिलाती धूप में तपता तन-बदन और आंखें अपने नेता के इंतजार में। गुरुवार को कल्याणबिगहा स्थित स्व. रामलखन सिंह वाटिका में स्व. मंजू सिंहा की पुण्यतिथि पर उमड़ी भीड़ की यही स्थिति थी।कुछ देर बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का काफिला गांव में प्रवेश कर गया। सीएम अपने पैतृक घर के पास बने मंदिर में जाकर मां देवी व भगवान शंकर के सामने मत्था टेका। इसके बाद श्री कुमार ने अपने पिता स्व. रामलखन सिंह की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए। ज्यों-यों उनके कदम पत्नी मंजू सिन्हा की प्रतिमा की ओर बढ़ते गए मुख्यमंत्री की आंखें ंउनके नियंत्रण से बाहर होती गयीं।ड्ढr ड्ढr प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करते-करते तक उनकी आंखों से आंसू छलक ही गये। इनके बेटे निशांत तो फफक-फफक कर रो पड़े। इस मौके पर हरनौत विधायक ई. सुनील कुमार, डा. जितेन्द्र कुमार, विधान पार्षद संजय कुमार, हीरा प्रसाद बिंद, जदयू के महासचिव लोक प्रकाश सिंह, डा. विपिन कुमार यादव, संजयकांत सिन्हा, रजनीश कुमार, कक्कू कुमार, कवि उदयशंकर शर्मा, मनोज कुमार, मेहता ज्ञानचंद, शैलेन्द्र सिंह आदि मौजूद थे। पटना से हि.ब्यू. के अनुसार कंकड़बाग स्थित ‘जी’ सेक्टर के पार्क में प्रार्थनासभा की गई। इस दौरान मुख्यमंत्री के अलावा उनके पुत्र निशीत ने स्व. सिन्हा की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ..और मुख्यमंत्री हो गए भावुक