अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विकास के लिए कलीसिया में शामिल हों : कार्डिनल

मसीही विश्वासी परिवार की उन्नत्ति के लिए कलीसिया में शामिल हों। इसके बगैर पारिवारिक प्यार संभव नहीं है। उक्त संदेश कार्डिनल तेलेस्फोर पी टोप्पो ने दिया। वे रविवार को संत मोनिका दिवस पर आयोजित समारोही मिस्सा में बोल रहे थे। उन्होंने बताया कि किस प्रकार संत मोनिका ने अपनी निरंतर प्रार्थना और ईश्वरीय विश्वास से अपने पति, सास और पुत्र के हृदय को परिवर्तित किया और उन्हें ईश्वर के नजदीक ले आयीं। मिस्सा कलीसिया की माताओं को समर्पित थी। मिस्सा में मुख्य अनुष्ठाता के साथ फादर हुबरतुस बेक, फादर माइकल नाग और फादर आनंद डेविड ने सहयोग किया।ड्ढr बच्चों को जिज्ञासु बनायें : सिस्टर सोसनड्ढr संत जेम्स चर्च में भी हर्षोल्लास के साथ महिला संघ ने संत मोनिका पर्व मनाया गया। इस अवसर पर लालपुर महिला संघ के तत्वावधान में सेमिनार का आयोजन किया गया। मुख्य वक्ता सिस्टर सोसन बाड़ा ने परिवार में मां की भूमिका विषय पर अपने विचार रखे। उन्होंने माताओं से कहा कि वे अपने बच्चों को दब्बू नहीं बल्कि जिज्ञासु बनायें। कार्यक्रम में प्रेरित पौलुस की जीवनी पर झांकी, कव्वाली, फैशन शो और कई अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये। इसके पूर्व सुबह साढ़े छह बजे संत जेम्स चर्च में समारोही मिस्सा का आयोजन किया गया। मुख्य अनुष्ठाता फादर विंसेंट आइंद थे।ड्ढr पुस्तक का विमोचन : संत मोनिका दिवस के मौके पर वेल्लांकिनी की मां मरिया पुस्तक का विमोचन किया गया। पुस्तक में मां मरिया की भक्ित, नोविना प्रार्थना, पारिवारिक और दैनिक प्रार्थना, भक्ित गीत आदि शामिल किये गये हैं।ड्ढr पुस्तक का संपादन पल्ली पुरोहित फादर अगस्तुस कुाूर ने किया है। उन्होंने बताया तीस अगस्त से वेल्लांकिनी माता की भक्ित काल आरंभ होगा, जो नौ दिन तक चलेगा।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: विकास के लिए कलीसिया में शामिल हों : कार्डिनल