अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जम्मू-कश्मीर में अशांति से भारी आर्थिक हानि

जम्मू-कश्मीर में श्रअमरनाथ श्राइन बोर्ड से जमीन वापस लिए जाने के मुद्दे को लेकर पिछले करीब दो महीने से जारी अशांति के कारण राय के 5000 करोड़ रूपये के कारोबार का नुकसान हो चुका है। एसोचैम महासचिव डीएस रावत के मुताबिक राय में जारी बंद, प्रदर्शन और राजनीतिक उठापटक से वहां पर्यटन, कालीन, कुटीर उद्योग, सूखे मेवों तथा खाद्य प्रसंस्करण कारोबार को भारी नुकसान हुआ है। यह नुकसान 5000 करोड़ रुपये से ऊपर पहुंच चुका है और यदि जल्द ही इसमें सुधार नहीं हुआ तो निर्यात कारोबार पूरी तरह ठप्प पड़ जाएगा और फिर राय की आर्थिक स्थिति में सुधार लाना मुश्किल होगा। रावत ने सभी पक्षों से हिंसा का रास्ता छोड़ बातचीत से समस्या का निदान निकालने की अपील करते हुए कहा है कि राय में इस दौरान जन-धन की जो हानि हुई है, उसका अनुमान रुपयों में लगाना मुश्किल है। जरूरत समस्या के शांतिपूर्ण निदान और राय की अर्थव्यवस्था को फिर से र्ढे पर लाने की है ताकि आने वाले पर्यटक मौसम में जम्मू-कश्मीर जाने वाला पर्यटक अपना रुख दूसरी तरफ नहीं मोड़ लें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जम्मू-कश्मीर में अशांति से भारी आर्थिक हानि