अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करार पर एनएसजी से सहमति की आशा : नारायणन

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एमके नारायणन ने सोमवार को कहा कि भारत को पूरी आशा है कि परमाणु आपूर्तिकर्ता देशों के समूह एनएसजी की अगली बैठक में भारत-अमेरिकी परमाणु करार के तहत उनके साथ व्यापार करने की अनुमति मिल जाएगी। नारायणन ने चेन्नई में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम करुणानिधि से मिलने के बाद पत्रकारों से बातचीत में यह कहा। उन्होंने कहा कि हमें किसी प्रकार के कयास नहीं लगाने चाहिएं। हमें अगली बैठक का इंतजार करना चाहिए। गौरतलब है कि एनएसजी की अगली बैठक 4-5 सितंबर को है। इससे पहले 21 अगस्त को हुई बैठक भारत-अमेरिकी परमाणु करार पर बिना किसी फैसले के ही खत्म हो गया था। इस बैठक में कुछ देशों ने भारत से परमाणु परीक्षण न करने की गारंटी चाही थी। उल्लेखनीय है कि एनएसजी में सर्वसम्मति से किसी भी मुद्दे पर फैसले लिए जाते हैं। उधर परमाणु ऊर्जा आयोग के अध्यक्ष अनिल काकोडकर ने कहा है कि भारत विश्व से परमाणु सहयोग चाहता है, लेकिन किसी भी कीमत पर नहीं। उन्होंने कहा कि भारत परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह की शर्तो को 18 जुलाई के 123 एग्रीमेंट के तहत ही मानेगा। उसमें किसी प्रकार की नई शर्तो को भारत नहीं मानेगा।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एनएसजी से सहमति की आशा : नारायणन