अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

असिस्टेंट इंचाीनियर सस्पेंड

सिंचाई प्रमंडल नरपतगंज के असिस्टेंट इंजीनियर सुभाष सिंह को निलंबित कर दिया गया है। सोमवार को जल संसाधन विभाग के सचिव अजय वी. नायक ने कार्यस्थल से अनुपस्थित रहने, कर्तव्यहीनता और जिम्मेवारियों के निर्वहन में अक्षम रहने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। श्री नायक ने सभी क्षेत्रीय चीफ इंजीनियर को निर्देश दिया है कि जूनियर इंजीनियर से लेकर चीफ इंजीनियर तक बगैर मुख्यालय को सूचित किए छुट्टी में भी नहीं जाएंगे। इसके अलावा बगैर अनुमति के अपने कार्यस्थल से अनुपस्थित भी नहीं होंगे। राजनीतिक पार्टी बनाएगा एस 4ड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। सूबे में सवर्णो को एकजुट करने की मुहिम में जुटा ‘एस 4’ अब नई राजनीतिक पार्टी बनाने की योजना बना रहा है। उसका आरोप है कि सूबे में सवर्णों को राजनीतिक और सामाजिक रूप से हाशिए पर भेज दिया गया है और उन्हें प्रताड़ित करने की उच्चस्तरीय साजिश चल रही है। एस 4 के अध्यक्ष मंडल के सदस्य संजय वर्मा ने बताया कि हिन्दू और मुस्लिम सवर्णों को लेकर एक मजबूत राजनीतिक धारा का गठन होगा जो अपने अधिकार के लिए संघर्ष करगी। 21 अक्तूबर को श्रीकृष्ण बाबू की जयंती पर पार्टी की विधिवत घोषणा हो सकती है। रंजीता रंजन मिलीं शिवराज पाटिल सेड्ढr पटना(हि.ब्यू.)। जरूरत पड़ी तो केंद्र सरकार पूर्णिया और कोसी प्रमंडल के बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में सेना भेज सकती है। सांसद रांीता रांन से सोमवार को मुलाकात के दौरान गृह मंत्री शिवराज पाटिल ने यह संकेत दिया। श्रीमती रांन ने टेलीफोन पर बताया कि गृह मंत्री ने बड़ी नावों के लिए उड़ीसा सरकार से भी बातचीत की। उड़ीसा से दो सौ नावें बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में भेजी जाएंगी। सांसद ने बाढ़ग्रस्त जिलों को सेना के हवाले करने की मांग की। गृहमंत्री का कहना था कि अगर राज्य सरकार आग्रह कर तो राहत और बचाव में सेना को लगाया जा सकता है। राज्य सरकार के आग्रह पर केंद्र सरकार जांच टीम भी भेज सकती है। बाद में सांसद ने केंद्रीय जल संसाधन मंत्री सैफुद्दीन सोज और उर्वरक एवं रसायन मंत्री रामविलास पासवान से मुलाकात की। श्री पासवान 27 अगस्त को बाढ़ग्रस्त क्षेत्र का हवाई सव्रेक्षण करंगे। ‘राजद में हिम्मत हो तो दस्तावेज को चुनौती दे‘ड्ढr पटना(हि.ब्यू.)। जदयू ने राजद से दो टूक कहा है कि वह साफ-साफ बताए कि जमीन लेकर लोगों को रलवे में नौकरी दी गई है या नहीं। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता विजय कुमार चौधरी ने सोमवार को यहां कहा कि जदयू ने राजद पर कोई आरोप नहीं लगाया। सिर्फ दस्तावेज पेश किया। राजद में हिम्मत हो तो दस्तावेज को चुनौती दे। उन्होंने कहा कि रलमंत्री लालू प्रसाद ने खुद स्वीकार किया कि डीए केस में गवाही के समय वे केंद्र सरकार में मंत्री नहीं थे। इससे यह प्रमाणित होता है कि जिन लोगों ने उनके पक्ष में गवाही दी थी, उन्हें रलमंत्री बनने पर उपकृत किया गया। मुख्य प्रवक्ता ने कहा कि राजद यह साबित कर कि नीतीश कुमार ने रलमंत्री रहने के दौरान नौकरी के एवज में किसी से जमीन लिखवाई। राजद के लोग बार-बार कह रहे हैं कि जदयू को न्यौता लौटाएंगे। मगर हर बार उधर से खाली लिफाफा भेज दिया जाता है।ड्ढr जख्मी दिल कांग्रेसी पटना लौटेड्ढr पटना (हि.ब्यू.)। जख्मी दिल कांग्रेसी दिल्ली में अपनी पीड़ा सुनाकर सोमवार को पटना लौटे। वे अब यहीं अपना अभियान चलाएंगे। उनका मानना है कि राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उनकी बात सुनी है इससे ही उनकी हिम्मत बढ़ी है। वे कांग्रेस के निष्ठावान कार्यकर्ताओं को एकाुट करंगे, जिला स्तर पर धरना देंगे और इसके बाद प्रदेश स्तर पर कार्यकर्ताओं का सम्मेलन करंगे। प्रदेश कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता और विक्षुब्ध कोटे के शंभुनाथ सिन्हा ने सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि दिल्ली में उनलोगों का अभियान सफल रहा है। उन्होंने अनिल कुमार शर्मा को अप्रवासी प्रदेश अध्यक्ष करार देते हुए कहा कि उन्हें अध्यक्ष बनाकर कांग्रेस को राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के हाथों गिरवी रखने की साजिश की गई है। उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा से पांच सवाल भी पूछे हैं। संवाददाता सम्मेलन में युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष संजीव कुमार और पूर्व महासचिव डा. संजय कुमार भी उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर