पीयू के शिक्षकों की बल्ले-बल्ले - पीयू के शिक्षकों की बल्ले-बल्ले DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीयू के शिक्षकों की बल्ले-बल्ले

पटना विश्वविद्यालय के विभागाध्यक्षों, प्राचार्यो और निदेशकों के साथ ही नियमित शिक्षकों की भी बल्ले-बल्ले होने वाली है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने सामान्य पढ़ाई के अलावा प्रशासकीय कार्य का अलग से मानदेय निर्धारित किया है। एक कोर्स के लिए कम से कम 1500 रुपए प्रतिमाह तथा एक एडीशनल कोर्स बढ़ने पर पांच सौ रुपए और बढ़ा दिए जाएंगे। अधिकतम काम पर ढाई हजार रुपए देने का फैसला किया गया है।ड्ढr ड्ढr यदि किसी विभाग में सेल्फ फाइनेंसिंग कोर्स में को-ऑडिनेटर नहीं रखा गया है, तो कॉलेज के हेड व विभाग के हेड को भी इसी आधार पर वेतन दिया जाएगा। सभी को-ऑडिनेटर को एक कोर्स के लिए 2500 रुपए प्रतिमाह के अलावा टेलीफोन सुविधा के लिए भी डेढ़ हजार मिलेंगे। कॉलेज के प्राचार्य, विभागाध्यक्ष और निदेशक के निर्देशन में कोर्स को सुचारु तरीके से चलाने की जिम्मेदारी कोर्स को-ऑडिनेटर को दी गई है। विश्वविद्यालय ने शिक्षकेतर कर्मचारियों के लिए भी विशेष मानदेय भी तय किया गया है। अनुबंध पर बहाल कंप्यूटर सहायक को प्रतिमाह 5000 रुपए के साथ एक एडिशनल कोर्स बढ़ने पर एक हजार रुपए बढ़ा दिए जाएंगे। सहायक को अधिकतम मानदेय 8000 प्रतिमाह निर्धारित किया गया है। विश्वविद्यालय के नियमित कर्मचारी को ऑफिस सहायक व लाइब्रेरियन के लिए 1200 प्रतिमाह दिया जाएगा। एक एडिशनल कोर्स बढ़ने पर 500 रुपए बढ़ेंगे, जबकि अधिक कार्य के लिए 2200 रुपए मिलेंगे। अस्थायी कर्मचारी को काम के आधार पर मानदेय दिया जाएगा।ड्ढr ड्ढr पटना विश्वविद्यालय के सेवानृवित्त शिक्षक और गेस्ट फैकेल्टी को एक लेक्चर के लिए 250 रुपए दिए जाएंगे, जबकि प्रायोगिक वर्ग के लिए 300 रुपए। रगुलर फैके ल्टी के शिक्षक को थ्योरी क्लास के लिए एक लेक्चर के लिए दो सौ रुपए और प्रायोगिक कक्षा के लिए 250 दिए जाएंगे। नियमित शिक्षक सप्ताह में चार क्लास से अधिक नहीं ले सकते हैं। रािस्टर्ड रिसर्च स्कॉलर को एक वर्ग लेने का 150 रुपए मिलेंगे, जबकि प्रायोगिक कक्षा लेने के लिए दो सौ रुपए दिए जाएंगे। इसकी अधिसूचना जारी कर सभी विभागाध्यक्षों, सभी संकाय के डीन, प्राचार्य, संयोजक सहित सभी अधिकारियों को भेज दी गई है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पीयू के शिक्षकों की बल्ले-बल्ले