DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एटमी करार में बदलाव की संभावना से इंकार नहीं : अमेरिका

अमेरिका ने कहा है कि परमाणु आपूर्ति समूह (एनएसजी) के देशों द्वारा भारत को परमाणु व्यापार में छूट के मद्देनजर अमेरिका-भारत असैनिक परमाणु समझौते में बदलाव की कोई योजना नहीं है, लेकिन इसकी संभावना को पूरी तरह खारिज भी नहीं किया जा सकता है। विदेश विभाग के उप प्रवक्ता रॉर्बट वुड ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा,‘‘जहां तक मैं जानता हूं समझौते में बदलाव की कोई योजना नहीं है। लेकिन कभी भी किसी चीज को पूरी तरह खारिज नहीं किया जा सकता है।’’ एनएसजी के देशों की चिंताओं को दूर करने के लिए मसौदे में संशोधन की संभावनाओं के मद्देनजर उन्होंने कहा कि यदि भारत और अमेरिका दोनों सहमत होंगे तो इसमें बदलाव हो सकता है। अमेरिकी प्रवक्ता का बयान भारतीय विदेश सचिव शिवशंकर मेनन की अमेरिका यात्रा के एक दिन बाद आया है। गौरतलब है भारतीय विदेश सचिव एनएसजी के लिए स्वीकार्य मसौदे पर विचार विमर्श के लिए अमेरिका आए थे। मेनन ने अपने समकक्ष अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारी विलियम बर्न्‍स और राष्ट्रपति जॉर्ज बुश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेम्स जेफ्री से चर्चा की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘एटमी करार में बदलाव की संभावना से इंकार नहीं’