अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

योजनाओं की धीमी गति पर सीएस नाराज

सीएस एके बसु ने उच्चस्तरीय बैठक कर विकास कार्यो में तेजी लाने का निर्देश दिया है। नयी सरकार के शपथ ग्रहण के दूसर दिन हुई इस बैठक को प्रशासनिक हलकों में महत्वपूर्ण माना जा रहा है। राजनीतिक अस्थिरता के कारण एक माह के बाद ऐसी बैठक हुई है। विकास कार्य के लिए निर्धारित धन में से अबतक 10 प्रतिशत राशि भी खर्च नहीं हुई है।ड्ढr विभागीय सचिवों के साथ समीक्षा बैठक में गुरुवार को उन्होंने विकास कार्यो की धीमी गति पर नाराजगी जतायी और कहा कि अधिकारी विकास कार्यो को एक निश्चित मुकाम तक पहुंचाने में जुट जायें। बरसात के चलते काम काज में तेजी नहीं है। ऐसी स्थिति में अधिकारी अन्य कार्य पूरा कर लें । बैठक में उन्होंने कहा कि विकास कार्यो में तेजी नहीं आयी, तो अधिकारियों की जवाबदेही तय होगी। आइटी, पथ निर्माण, श्रम, आपदा प्रबंधन, समाज कल्याण, कल्याण, आवास, पेयजल स्वच्छता, कृषि, ग्रामीण कार्य, विभाग में तेजी से काम करने पर बल दिया।ड्ढr सीएस ने अग्रिम निकासी का डीसी बिल सौंपने के बाद एजी से उसका समायोजन एवं सत्यापन कराने का निर्देश दिया। कहा कि यदि सत्यापन नहीं कराया जाता है, तो अग्रिम की राशि महालेखाकार के यहां पूर्ववत दर्ज रह जायेगी। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: योजनाओं की धीमी गति पर सीएस नाराज