अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उड़ीसा में कफ्यरू के बावजूद हिंसा जारी

उड़ीसा के हिंसाग्रस्त कंधमाल जिले में शुक्रवार को कफ्यरू के बावजूद छिटपुट हिंसक घटनाएं जारी हैं। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के एक वरिष्ठ नेता समेत पांच लोगों की हत्या के बाद से ही पूरे क्षेत्र में हिंसा भड़क उठी थी।एक पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि कंधमाल के विभिन्न इलाकों से छिटपुट हिंसा की खबरें आई हैं। कंधमाल जिले के फिरिंगिया, टिकाबाली और उदयगीरी इलाकों से हिंसक घटनाओं की खबरें मिली हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि इन इलाकों में उग्र भीड़ ने विभिन्न जगहों पर सड़कों पर जाम लगाया। उन्होंने कहा कि कंधमाल जिले में चार हजार पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया है। यहां कम से कम 137 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस के अनुसार राज्य के अन्य हिस्सों में स्थिति शांतिपूर्ण बनी हुई है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार शनिवार से हो रही हिंसा में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं स्थानीय समाचार चैनलों और समाचार पत्रों के अनुसार सांप्रदायिक हिंसा में कम से कम 17 लोग मारे गए हैं, जिनमें 13 शव बरामद किए जा चुके हैं। गौरतलब है कि शनिवार को कंधमाल जिले के एक आश्रम में जन्माष्टमी उत्सव के दौरान विहिप की केंद्रीय सलाहकार समिति के वरिष्ठ सदस्य स्वामी लक्ष्मणानंद सरस्वती सहित पांच लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: उड़ीसा में कफ्यरू के बावजूद हिंसा जारी