अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जाली नोटों के खिलाफ आरबीआई सख्त

रिजर्व बैंक ने नकली नोटों की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए मजबूत सुरक्षा मानकों वाले नए नोटों के चलन पर जोर दिया है। इस कड़ी में केन्द्रीय बैंक ने 1सीरीज के पुराने 500 रु. के नोटों को धीर-धीर चलन से हटाने की प्रक्रिया शुरू की है। बैंक नए सुरक्षा मानकों वाले नोटों को ही चलन में बनाए रखेगा। फिलहाल यह प्रक्रिया केवल 500 रु. के नोटों के लिए ही शुरू की गई है। मुद्रा प्रबंधन कार्यक्रम के तहत रिजर्व बैंक समय-समय पर यह प्रक्रिया चलाता रहता है। केन्द्रीय बैंक ने वाणिज्यिक कारोबार में लगे सभी बैंकों से कहा है कि उन्हें 500 रु. के पुराने डिजाइन वाले जो भी नोट प्राप्त हों उन्हें वह फिर से चलन में जारी नहीं करें बल्कि उन्हें रिजर्व बैंक कार्यालय में जमा करा दें। केन्द्रीय बैंक के निर्देशों के मुताबिक पुराने डिजाइन के नोटों के बदले जनता को नए सुरक्षा मानकों वाले उतने ही मूल्य के नोट जारी कर दिए जाएंगे। हालांकि बैंक ने स्पष्ट किया है कि नए नोटों के पूरी तरह चलन में आने तक पुराने डिजाइन वाले नोट भी पूरी तरह मान्य होंगे। केन्द्रीय बैंक ने इस प्रक्रिया के लिए कोई समय सीमा भी तय नहीं की है। बैंक ने यह भी स्पष्ट किया है कि दस, बीस, पचास और सौ रु. के नोटों के मामले में पुराने डिजाइन के नोटों को प्रचलन से हटाने की कोई प्रक्रिया शुरू नहीं की है। उल्लेखनीय है कि 500 रु. के नकली नोटों के कई मामले हाल ही में उजागर हुए हैं। यूपी में बैंकों और एटीएम से कई स्थानों पर नकली नोट पकड़े गए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जाली नोटों के खिलाफ आरबीआई सख्त