DA Image
19 जनवरी, 2020|1:09|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत-बांग्लादेश आतंकिचचयों पर कचचार्रवाई पर सहमत

भारत और बांग्लादेश ने आतंकवादियों एवं उग्रवादी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई किए जाने पर रविवार को सहमति जताते हुए अपनी धरती पर एक-दूसरे के खिलाफ गतिविधियां नहीं होने देने का संकल्प दोहराया। दोनों देशों के बीच गृह सचिव स्तर की दो दिवसीय बैठक के आखिरी दिन इस बात पर सहमति बनी कि आतंकवादी संगठनों और उनके नेताओं के खिलाफ आपसी आदान-प्रदान से प्राप्त सूचनाओं के आधार पर बिना वक्त गंवाए कार्रवाई की जाएगी। बैठक में हथियारों, गोला-बारूद तथा नकली मुद्रा की तस्करी के खिलाफ कड़े कदम उठाने तथा दोषियों को पकड़ कर कानूनी कार्रवाई करने पर भी सहमति कायम हुई। बैठक के बाद जारी एक संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि भारत के गृह सचिव मधुकर गुप्ता ने बांग्लादेश में कथित रूप से छिपे उन संगठनों के खिलाफ कार्रवाई में सहयोग मांगा है जो भारत में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देते हैं। विज्ञप्ति में कहा गया कि दोनों देश अपनी-अपनी जेलों में बंद एक-दूसरे के नागरिक कैदियों की पहचान करने की प्रक्रिया की रूपरेखा तैयार कर उसे अमल में लाने पर भी सहमत हो गए हैं। बांग्लादेश के गृह सचिव अब्दुल करीम ने भारत में उनके देश के खिलाफ सक्रिय संगठनों पर रोक लगाने में सहायता मांगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title: भारत-बांग्लादेश आतंकिचचयों पर कचचार्रवाई पर सहमत