DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाजीपुर में उपद्रव, तोड़फोड़ व जाम

नगर के चौहट्टा चौक के पास से छिपी टोला मोहल्ले में 55 वर्षीय एक दलित की मौत के बाद रविवार को आक्रोशित नागरिकों ने शव को चौक पर रखकर हाजीपुर-महनार मार्ग को चार घंटों तक जाम किया। भीड़ ने चौक स्थित केदारनाथ चौबे के परिानों पर करंट लगाकर हत्या करने का आरोप लगाते हुए उनके मकान में जमकर तोड़फोड़ व लूटपाट की। भीड़ के पथराव में सदर के थानाध्यक्ष रवीन्द्र प्रसाद और एसपी के अंगरक्षक संतोष कुमार घायल हो गए।ड्ढr ड्ढr मृतक शिवजी राम मोहल्ले के गोबर्धन राम का पुत्र था। वह रविवार की सुबह मरा हुआ पाया गया। उसके परिानों का आरोप था कि चौबे के परिवारवालों ने करंट लगाकर उसकी हत्या कर दी। देखते-देखते वहां सैकड़ों लोग जमा हो गए और सड॥क जाम करते हुए चौबे के मकान पर धावा बोल दिया। सूचना मिलने पर एसपी पारसनाथ, एएसपी मनु महाराज, नगर थानाध्यक्ष दिलीप कुमार सिन्हा, सदर के थानाध्यक्ष रवीन्द्र प्रसाद, औद्योगिक क्षेत्र के थानाध्यक्ष अंजनी कुमार, अवर निरीक्षक प्रेमशंकर सिंह सैप व पुलिस जवानों के साथ वहां पहुंचे तो उग्र नागरिकों ने उन पर पथराव शुरु कर दिया जिससे सदर के थानाध्यक्ष व एसपी के अंगरक्षक घायल हो गए। बाद में पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को तितर-बितर कर दिया। इस सिलसिले में कई लोगों को गिरफ्तार किया गया। एसपी ने बताया कि ललिता चौबे, रणु चौबे, गीता चौबे, धुनमुन चौबे, पप्पू चौबे, दिग्विजय चौबे व अमीन्द्र चौबे को सुरक्षा की दृष्टि से थाने पर लाया गया।ड्ढr ड्ढr दूसरी ओर चौबे परिवार की महिला ललिता चौबे ने बताया कि मृतक दिनभर सड॥क किनार मोची का काम करने के बाद रात में उनके दरवाजे पर ही सो जाया करता था। वह नशे का अभ्यस्त था। रविवार की सुबह भी वह प्रतिदिन की भांति काम पर गया। इसी बीच उसके मरने की सूचना मिली।ड्ढr उन्होंने बताया कि स्थानीय कुछ असामाजिक तत्वों ने इस घटना को दूसरा रंग देते हुए परिानों पर मारपीट व करंट लगाकर मारने का आरोप लगाते हुए घर में घुसकर तोड़फोड़ व लूटपाट की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: हाजीपुर में उपद्रव, तोड़फोड़ व जाम