DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बातचीत को तैयार ममता

सिंगुर में टाटा फैक्टरी पर छाए बादलों के बीच रविवार को उम्मीद की किरण नजर आई जब तृणमूल नेता ममता बनर्जी ने कहा कि वह अब भी बातचीत के लिए तैयार हैं। विदेशमंत्री प्रणब मुखर्जी ने जहां मसले को राज्य सरकार से संबंधित बताते हुए केंद्र द्वारा पहल करने से इनकार कर दिया। वहीं राज्य में उसके बाशिंदे राज्यपाल गोपालकृष्ण गांधी ने गतिरोध दूर करने के लिए एक तटस्थ मध्यस्थ की सहायता लेने का सुझाव दिया। ममता ने सिंगूर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘हम यहां अपना धरना तो समाप्त नहीं करंगे लेकिन बातचीत के दरवाजे अब भी खुले हुए हैं। बशर्ते किसानों को उनकी 400 एकड़ जमीन वापस लौटाने के मुद्दे पर बातचीत के लिए बुद्धदेव सरकार तैयार हो।’ उन्होंने यह भी कहा, ‘हम भी टाटा फैक्टरी चाहते हैं वह भी सिंगूर में ही, लेकिन हमारी यह भी मांग है कि फैक्टरी और किसानी दोनों साथ साथ चलें। साठ फीसदी जमीन पर टाटा फैक्टरी खड़ी हो सकती है और 40 फीसदी जमीन पर खेती की अनुमति होनी चाहिए।’

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बातचीत को तैयार ममता