DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

करार पर एनएसजी की अहम बैठक कल

ई देशों की भारत-अमेरिकी परमाणु करार पर उठाई गई कुछ आपत्ति के बीच परमाणु आपूर्तिकर्ता देशों के संगठन एनएसजी की गुरुवार से दो दिनों की अहम बैठक शुरू होगी। एनएसजी के करीब 15 देशों के द्वारा करार में कुछ सुधार की मांग के बाद सभी 45 सदस्यों को सुधार सहित ड्राफ्ट पहले ही मुहैया करा दिया गया है। न्यूजीलैंड तथा ऑस्ट्रिया जैसे देश जो अभी भी नए ड्राफ्ट से संतुष्ट नहीं हैं, अपनी परमाणु अप्रसार पर चिंता को बैठक में उठा सकते हैं। इन देशों ने कहा है कि ड्राफ्ट में जो सुधार सुझाए कए हैं वह सिर्फ ऊपरी स्तर पर ही हैं, इन सुधारों के साथ शर्ते नहीं लगाई गई हैं। भारत का पड़ोसी देश चीन भी इन देशों के साथ आ सकता है। चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के मुखपत्र ‘पीपुल्स डेली’ में कहा गया है कि भारत अमेरिकी परमाणु करार परमाणु अप्रसार के लिए एक बड़ा खतरा है। भारत पहले ही यह साफ कर चुका है कि अगर करार के साथ कोई शर्त थोपपी जाती है तो वह इससे अलग हो जाएगा। भारत और अमेरिका दोनों को आशा है कि एनएसजी करार को हरी झंडी दे देगा, ताकि अमेरिकी कांग्रेस करार पर अपनी अंतिम सहमति दे दे।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: करार पर एनएसजी की अहम बैठक कल