DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईसाइयों की सुरक्षा पर रिपोर्ट तलब

सुपीम कोर्ट ने उड़ीसा सरकार को निर्देश दिया है कि वह गुरुवार तक यह बताए कि हिंसाग्रस्त कंधमाल जिले में ईसाइयों की जान-माल की सुरक्षा के लिए क्या कदम उठाए गए हैं। कोर्ट ने सरकार से विहिप की शुक्रवार को होने वाली अस्थि कलश रैली के बार में भी रिपोर्ट मांगी है। मुख्य न्यायाधीश जस्टिस केाी बालाकृष्णन, पी सथाशिवम और जेएम पांचाल की खंडपीठ ने यह आदेश कटक के आर्च बिशप राफेल चीनाथ की जनहित याचिका पर बुधवार को जारी किया। चीनाथ के वकील कालिन गांसाल्विस ने कोर्ट को बताया कि कल इस याचिका की सुनवाई के बाद हिंसाग्रस्त जिले में और हिंसा हुई और लगभग 100 परिवारों को अपना घर छोड़ना पड़ा। उन्होंने कहा कि विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीन तोगडिया को रैली न निकालने दी जाए क्यों उससे हिंसा को बढ़ावा मिल सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ईसाइयों की सुरक्षा पर रिपोर्ट तलब