अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

योग की शिक्षा ले रहे हैं नक्सली

ेन्द्रीय कारा, गया की सलाखों में कैद खुंखार नक्सली और कुख्यात अपराधकर्मी योग की शिक्षा ले रहे हैं। एक सितम्बर से सेन्ट्रल जेल के प्रांगण में शुरू योग प्रशिक्षण शिविर में सजायाफ्ता 40 बंदियों ने योग की पाठशाला में नाम लिखवाया है। बताया जाता है कि विचार में परिवर्तन, तनाव से मुक्ित और निरोग रहने के लिए जेल प्रशासन की पहल पर योग विद्यालय मुंगेर के द्वारा योग पाठशाला आरंभ की गई है। यह पाठशाला छह महीने तक चलेगी और योग प्रशिक्षक योगेश जी जेल में ही रहकर कैदियों को तनावमुक्त और निरोग रहने की विद्या सिखाएंगे।ड्ढr ड्ढr कैदियों के विचारों में परिवर्तन हो और यहां से छूटकर जाने के बाद वे समाज की मुख्यधारा में रह सकें इसके लिए गायत्री मंत्र से लेकर आध्यात्मिक बातों पर भी योग शिक्षा के दौरान ही चर्चा की जा रही है। योग पाठशाला में 40 सजायाफ्ता कैदियों का एडमिशन लिया गया जिसमें सात माओवादी हैं। जेल अधीक्षक ने बताया कि योग पाठशाला में अधिक से अधिक बंदी नामांकन कराना चाहते हैं जो बहुत अच्छी बात है।ड्ढr ड्ढr मैरवा में छात्रावास पर हमला, तोड़फोडड़्ढr मैरवा (सीवान) (ए.सं.)। मैरवा शहर के हरिान छात्रावास पर असामाजिक तत्वों ने बुधवार को हमला बोल दिया। इस दौरान असामाजिक तत्वों ने छात्रावास में तोड़फोड़ का विरोध करने पर छात्र प्रमुख राम सागर पासवान की जमकर पिटाई कर दी। घायल छात्र प्रमुख दरौली प्रखंड के बेलांव गांव का रहने वाला है तथा डीएवी कॉलेज सीवान के पीजी का छात्र है। मैरवा के मिथिलेश, पप्पू, पिंटू, धर्मेन्द्र अपने सहयोगियों के साथ आए और छात्रावास पर हमला कर दिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: योग की शिक्षा ले रहे हैं नक्सली