अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आईचाी,डीआईचाी की एसओचाी टीमें खत्म

मुख्यमंत्री की संयुक्त समीक्षा बैठक के बाद अपनी पीठ ठोकेोाने से खुश प्रमुख सचिव गृह कुंवर फतेह बहादुर और डीाीपी विक्रम सिंह ने योना भवन में कानून व्यवस्था के मुद्दे पर अलग से बैठक की। उन्होंने निर्देश दिए मुख्यमंत्री की अपेक्षाओं के अनुरूप सूबे में कानून व्यवस्था होनी चाहिए।ड्ढr उच्च स्तरीय सूत्रों ने बताया कि बैठक में उन्होंने आईाी और डीआईाी को अपनी-अपनी एसओाी (स्पेशल आपरशन ग्रुप) की टीमों को खत्म करने का फरमान भी सुनाया।ोबकि एसपी और एसएसपी की एसओाी टीमें काम करती रहेंगी।ड्ढr मुख्यमंत्री द्वारा थाना दिवस की गुणवत्ता पर नाराागीोताएोाने को भी अफसरों ने गंभीरता से लिया और कहा कि थाना दिवस को मुख्यमंत्री की अपेक्षाओं पर खरा उतरना चाहिए। इसके लिए थाना दिवस की गुणवत्ता को सुधाराोाए। बैठक में प्रदेश भर केोिलाधिकारियों और पुलिस अफसरों खासकर 35ोिलों के अफसरों को इस बात की हिदायत दी गई कि वे नकली नोटों के चलन पर हर हाल में अंकुश लगाएँ। समीक्षा बैठक में कैबिनेट सचिव द्वारा गोरखपुर दौर के समय मुख्यमंत्री की सुरक्षा में खामी पाएोाने पर अफसरों कोोब फटकारा गया तो वहाँ के आईाी ने खड़े होकर इसके लिए माफी माँगी। कैबिनेट सचिव ने कहा कि हेलीकाप्टर उतरने कीोगह पर पर्याप्त रोशनी न होना सुरक्षा की दृष्टि से ठीक नहीं है। इस तरह की घटना की कहीं कोई पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आईचाी,डीआईचाी की एसओचाी टीमें खत्म