अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बाइकों की हुई सघन जांच

लगातार कैश लूट की घट रही घटनाओं से हतप्रभ सेंट्रल रां के डीआईाी जेएस गंगवार द्वारा संदिग्ध मोटरसाइकिल और उसके सवारों की गहराई से छानबीन का आदेश का पुलिसकर्मी संजीदगी के साथ पालन करने में जुट गए हैं। बुधवार को राजधानी के दर्जनों नाकों पर संबंधित थाना के थानाध्यक्षों की अगुवाई में मोटरसाइकिलों की चेकिंग की गई। यह दीगर बात है कि घंटों चले इस अभियान के दौरान किसी नाके पर संदिग्ध मोटरसाइकिल या कोई अपराधी पकड़ा नहीं गया। सोमवार को एसके पुरी थाना क्षेत्र में और पुन: मंगलवार को शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र में हुई कैश लूट की दो बड़ी वारदातों के बाद डीआईाी ने मंगलवार को अधीनस्थ अधिकारियों के साथ शास्त्रीनगर थाना में बैठक कर दुपहिया वाहनों की सघन जांच का आदेश दिया था।ड्ढr ड्ढr मंगलवार को शास्त्रीनगर थानाध्यक्ष कामोद प्रसाद ने इस थाना क्षेत्र के लगभग आधा दर्जन नाकों, गर्दनीबाग थानाध्यक्ष शिवाजी प्रसाद की अगुवाई में चितकोहरा और अनिसाबाद गोलम्बर, फुलवारीशरीफ के थानाध्यक्ष रमाकांत प्रसाद के निर्देशन में इस क्षेत्र के तीन नाकों, सचिवालय पुलिस द्वारा पटेल गोलम्बर और हा भवन के पास, पाटलिपुत्र थानाध्यक्ष सुनील कुमार की अगुवाई में पाटलिपुत्र गोलम्बर व कुर्ाी मोड़ तथा एसके पुरी थानाध्यक्ष अनुज कुमार के नेतृत्व में पानी टंकी मोड़, चिल्ड्रेन पार्क व बोरिंग रोड में दुपहिया वाहनों की जांच और उसके चालकों की तलाशी ली गई। इस सघन अभियान के बावजूद पुलिस को उन कैश लुटेरों का कोई सुराग नहीं मिला जिन्होंने घटना को अंजाम दिया। हालांकि शास्त्रीनगर पुलिस का दावा है कि रिलायंस वितरक से चार लाख तिरासी हाार रुपये लुटने वाले अपराधियों के गिरबां जल्द ही पुलिस के हाथ में होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बाइकों की हुई सघन जांच